scorecardresearch
 

रायसेन में हुए सड़क हादसे में 12 गायों की मौत, शवों के पास कम्प्यूटर बाबा ने दिया धरना

मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के NH45 पर हुए सड़क हादसे में 12 गायों की मौत हो गई. इसी रास्ते से सुबह भोपाल जा रहे कम्प्यूटर बाबा वहीं धरने पर बैठ गए. बताया जा रहा है कि रात में करीब ढाई बजे भारी बारिश हो रही थी. इस दौरान गायें डम्फर की चपेट में आ गई थीं.

X
मृत गायों के साथ NH-45 भोपाल-जबलपुर मार्ग पर घरने में बैठे कम्प्यूटर बाबा.
मृत गायों के साथ NH-45 भोपाल-जबलपुर मार्ग पर घरने में बैठे कम्प्यूटर बाबा.

मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के NH45 पर हुए एक सड़क हादसे में 12 से ज्यादा गायों की मौत हो गई. हादसा सेमरी खुर्द सुल्तानपुर के पास हुआ. उसी दौरान रास्ते से गुजर रहे कम्प्यूटर बाबा भोपाल-जबलपुर मार्ग पर गायों के शवों के साथ धरने पर बैठ गए.

बताया जा रहा है कि रात में करीब ढाई बजे के आस-पास भारी बारिश हो रही थी. रात में गायें एक डम्फर की चपेट में आ गई थीं. हादसे में 13 गायों में से 12 की मौत हो गई. सुबह करीब 8 बजे कम्प्यूटर बाबा इसी रास्ते से भोपाल जा रहे थे. 

रास्ते में गायों के शवों को देखकर बाबा वहीं रुक गए और शवों के पास बैठकर धरना देने लगे. उन्होंने ट्वीट किया, “हे गौमाता काश तुम्हें भी वोट डालने का अधिकार होता, तो शायद सरकार यह निर्लज्जता नहीं करती. NH-12 सेमरी खुर्द सुल्तानपुर, रायसेन में गौमाता की इस दुर्दशा को देखकर किसी भी सनातनी का हृदय कांप जाएगा.”

NH 45 सेमरी खुर्द सुल्तानपुर जिला रायसेन में हुए सड़क हादसे में गायों की मौत हो गई.

चेतावनी दी, संत समाज सरकार के खिलाफ उठाएगा कड़े कदम

हालांकि, बाद में प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद कम्प्यूटर बाबा ने धरना खत्म किया. पूर्व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त कम्प्यूटर बाबा ने कहा, “गायों की नेशनल हाइवे पर दुःखद मौत हो रही है. हम सरकार से निवेदन करते हैं कि इनको गौशालाओं में भेजा जाए. नहीं तो संत समाज को सरकार के खिलाफ ठोस कदम उठाने पड़ेंगे”.

कम्प्यूटर बाबा ने गौशाला मालिकों को भी जमकर लताड़ लगाते हुए प्रशासन से उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की. उन्होंने कहा कि गौशालाओं के मालिकों को भी सुधरना जरूरी है. गायों का दूध निकालने के बाद उन्हें खुला छोड़ दिया जाता है. गौ-माता की इस तरह की दुर्दशा नहीं होनी चाहिए. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें