scorecardresearch
 

क्या ये रिश्ता आपके लिए ठीक है?

प्रेम संबंधों को खुशहाल और सुखद बनाए रखने के लिए दोनों ही पक्षों को प्रयास करने की जरूरत होती है लेकिन ये प्रयास कभी भी जबरन थोपे हुए नहीं होने चाहिए.

X
रिश्तों की पहचान रिश्तों की पहचान

हर रिश्ता समय और समर्पण मांगता है और प्रेम-संबंधों के लिए तो ये सबसे अहम बात है. प्रेम संबंधों को खुशहाल और सुखद बनाए रखने के लिए दोनों ही पक्षों को प्रयास करने की जरूरत होती है लेकिन ये प्रयास कभी भी जबरन थोपे हुए नहीं होने चाहिए. प्रयास स्वैच्छ‍िक हों तो रिश्तों की गर्माहट लंबे समय तक बनी रहती है.

पर कई बार ऐसा भी होता है कि जिस रिश्ते को हम जीवनभर का साथ मानकर शुरू करते हैं वो बीच राह में ही धोखा दे जाता है. ऐसे में ये परख लेना बेहद जरूरी है कि आपका रिश्ता कितना मजबूत है और क्या वो उम्रभर का साथ बन पाएगा? आप चाहें तो इन बातों के आधार पर अपने रिश्ते को परख सकते हैं:

1. अगर आपको इस रिश्ते में कुछ भी कहने या करने के लिए दो बार सोचना पड़ रहा है तो समझ लीजिए कि ये रिश्ता आपके लिए सही है. जिस रिश्ते में इतनी आजादी न हो कि आप अपनी बात स्पष्ट तरीके से रख पाएं, उस रिश्ते से अलग हो जाना ही बेहतर होगा.

2. अगर आप अपने पार्टनर को भरपूर स्पेस दे रही हैं और वो भी आपको हर बात के लिए रोकता-टोकता नहीं है तो ये एक कामयाब रिश्ते की पहचान है. किसी भी रिश्ते में जरूरत से ज्यादा रोक-टोक और स्पेस न देना उस रिश्ते के लिए ही खतरनाक साबित हो सकता है.

3. हर रिश्ते में कुछ बातों पर मतभेद होना सामान्य है. पर अहम बात ये है कि आप अपने झगड़ों को किस तरह से सुलझाते हैं और कितनी जल्दी सुलझाते हैं.

4. ये एक बेहद अहम बात है. किसी भी रिश्ते में भरोसे का होना बहुत जरूरी है. अगर आप अपने पार्टनर से अपने दिल के सारे राज साझा कर सकते हैं तो इसका मतलब है कि आप एक हेल्दी रिलेशन में हैं.

5. रिश्ता जितना सच्चा हो उतना ही अच्छा होता है. ऐसे रिश्तों की उम्र बहुत कम होती है जो दिखावे की नींव पर बनते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें