scorecardresearch
 

Male fertility: ये चीजें खाने से स्पर्म हो जाएगा जल्दी डैमेज, नहीं बन पाएंगे पापा, अभी से बरतें सावधानी

Low Sperm Count: आप जो भी खाते-पीते हैं, उसका आपकी फर्टिलिटी पर बहुत असर पड़ता है. बिजी लाइफस्टाइल के चलते लोगों का स्पर्म काउंट लगातार गिरता जा रहा है. ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें खाने से स्पर्म काउंट काफी कम होता है.

X

बीते कुछ सालों में पुरुषों का स्पर्म काउंट लगातार कम होता जा रहा है. इसके पीछे के कारण आपको हैरान कर सकते हैं खासतौर पर पुरुषों को. आमतौर पर स्पर्म हेल्थ पर पुरुष ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं. अधिकतर पुरुषों को इस बात का भी कोई अंदाजा नहीं होता कि डाइट और लाइफस्टाइल के कारण भी स्पर्म काउंट कम होता है. 

क्यों पुरुषों में स्पर्म की क्वॉलिटी गिर रही है? क्या यह सच में एक बड़ी दिक्कत है? हम जो खाना खाते हैं क्या स्पर्म काउंट कम होने के लिए वह जिम्मेदार हैं? आज हम आपको इन सभी बातों के जवाब देने जा रहे हैं. आइए जानते हैं कौन सी चीजें पुरुषों में स्पर्म काउंट को कम रही हैं जिसकी वजह से अधिकतर पुरुषों को पिता बनने के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. 

क्या स्पर्म काउंट का कम होना सच में दिक्कत की बात है? 

स्पर्म काउंट का कम होना सच में एक बड़ी दिक्कत है. एक स्टडी में बताया गया है कि बीते 38 सालों में पुरुषों में स्पर्म काउंट 59 फीसदी तक कम हुआ है. स्पर्म काउंट कम होने पर इसका असर पुरुषों की फर्टिलिटी पर भी पड़ता है जिससे अधिकतर कपल्स को बच्चे पैदा करने में कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. 

क्यों कम हो रहा है स्पर्म काउंट? क्या इसकी वजह हमारी डाइट है?

इस बात का पता लगाना काफी मुश्किल है कि पुरुषों में स्पर्म काउंट कम होने के पीछे क्या वजह है. कुछ लोगों का मानना है कि गोद में लैपटॉप रखकर काम करने के कारण स्पर्म कम होते हैं. वहीं, कुछ एक्सपर्ट्स का यह भी मानना है कि जब आप अपने फोन को जेब में रखते हैं तो उससे एक हीट निकलती है जिससे स्पर्म पर बुरा असर पड़ता है. मोटापा भी इसकी एक वजह हो सकता है.

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि स्पर्म काउंट कम होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं. हम खाने में किन चीजों का सेवन करते हैं ये बेहद जरूरी होता है और इसकी वजह से ही कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स का सामना करना पड़ता है. कुछ स्टडीज के मुताबिक, कुछ खास चीजों का सेवन करने से स्पर्म पर बुरा असर पड़ता है. लेकिन कुछ चीजें ऐसी भी हैं जिनसे स्पर्म काउंट बढ़ता भी हैं. आइए जानते हैं उन सभी चीजों के बारे में - 

स्पर्म हेल्थ और फर्टिलिटी पर बुरा असर डालती हैं ये चीजें

प्रोसेस्ड मीट- ऐसी बहुत सी स्टडीज में ये बात बताई जा चुकी है कि प्रोसेस्ड मीट का सेवन करने से कई तरह की बीमारियों का खतरा बढ़ता है. प्रोसेस्ड मीट में हॉट डॉग, सलामी, बीफ, बेकन आदि चीजें शामिल हैं. हालांकि ये चीजें खाने में तो काफी अच्छी लगती हैं लेकिन सेहत के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती हैं. कई स्टडीज में इस बारे में बताया गया है कि प्रोसेस्ड रेड मीट खाने से स्पर्म काउंट कम होने के साथ ही स्पर्म की मूवमेंट भी कम होती है. 

ट्रांस फैट- हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि ट्रांस फैट से हार्ट डिजीज का खतरा बढ़ता है. साल 2011 में हुई एक स्पेनिश स्टडी में इस बात का खुलासा किया गया कि शरीर में ट्रांस फैट की मात्रा ज्यादा होने से स्पर्म काउंट कम होने लगता है. 

सोया प्रोडक्ट्स- सोया प्रोडक्ट्स में फाइटोएस्ट्रोजेन-एस्ट्रोजन जैसे कंपाउंड होते हैं जो पौधों से आते हैं. बॉस्टन में फर्टिलिटी क्लिनिक में 99 पुरुषों पर हुई एक स्टडी में यह पाया गया कि अधिक मात्रा में सोया प्रोडक्ट्स का सेवन करने से स्पर्म काउंट कम होता है. 

हाई फैट डेयरी प्रोडक्ट्स- दूध भले ही आपके बॉडी के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है लेकिन आप स्पर्म को इसमें शामिल नहीं कर सकते. एक स्टडी में इस बात का खुलासा  हुआ है कि हाई फैट डेयरी प्रोडक्ट्स क सेवन करने से पुरुषों के स्पर्म की मूवमेंट में कमी और स्पर्म के शेप में असमानता पाई जाती है. 

इन 3 चीजों से बढ़ती है पुरुषों में फर्टिलिटी और इंप्रूव होती है स्पर्म हेल्थ

फिश- मछली में ओमेगा- 3 फैटी एसिड की मात्रा काफी ज्यादा पाई जाती है. ऐसे में आप रेड या प्रोसेस्ड मीट की बजाय फिश का सेवन कर सकते हैं. 

फ्रूट्स और सब्जियां- फर्टिलिटी क्लिनिक में 250 लोगों पर हुई एक स्टडी में पाया गया कि जिन लोगों ने अधिक मात्रा में फलों और सब्जियों का सेवन किया, खासतौर पर हरी सब्जियां और बीन्स का, उनमें स्पर्म की क्वॉलिटी काफी सही पाई गई. साथ ही इन लोगों में स्पर्म की गतिशीलता में उन लोगों की तुलना में बढ़ोतरी देखी गई जिन्होंने इस तरह की चीजों का सेवन नहीं किया था.

इसमें हैरानी की कोई बात नहीं है क्योंकि पौधों से मिलने वाली सभी चीजों में एंटी- ऑक्सीडेंट जैसे को-एंजाइम Q10, विटामिन सी और लाइकोपीन पाया जाता है.  इन माइक्रोन्यूट्रिएंट्स को स्पर्म की संख्या बढ़ने के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है. 

अखरोट- साल 2012 में हुई एक स्टडी में 21 से 35 साल तक के 117 पुरुषों को शामिल किया गया. सभी पुरुषों को 12 हफ्तों तक रोजाना लगभग  18 अखरोट खाने के लिए दिए गए. शोधकर्ताओं ने स्टडी से पहले और बाद में इन पुरुषों के स्पर्म पैरामीटर का विश्लेषण किया. शोध में अखरोट खाने के दौरान पुरुषों के स्पर्म में सुधार देखा गया. अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है. ओमेगा 3 फैटी एसिड से टेस्टिकल्स में ब्लड सर्कुलेशन अच्छे से होता है, जिससे सीमन की मात्रा और उत्पादन दोनों में ही बढ़ोतरी होती है.

स्पर्म हेल्थ को सुधारने के लिए ये चीजें भी करें

ऑर्गेनिक सब्जियों का सेवन करें और खाने पहले इन्हें अच्छी तरह से धो लें.  प्रोसेस्ड मीट की बजाय मछली का सेवन करें.  फ्राइड और जंक फूड का सेवन कम से कम करें.  सिगरेट का सेवन ना करें. अगर आपका वजन काफी ज्यादा है तो इसे कम करें. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें