scorecardresearch
 

Hair Fall: इस एक चीज के सेवन से खूब झड़ते हैं बाल, पुरुष-महिला जरूर मानें डॉक्टर की ये सलाह

Hair Fall: बाल झड़ना या गिरना एक आम समस्या है, जिससे अक्सर लोग परेशान रहते हैं. एक्सपर्ट्स का कहना है कि गलत लाइफस्टाइल और खान-पान के कारण भी हेयर फॉल होता है. हालही में एक डॉक्टर ने बताया कि कैसे चाय-कॉफी के सेवन से हेयर फॉल होता है?

X
(Image credit: Getty images) (Image credit: Getty images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुरुष-महिला दोनों हेयर फॉल से परेशान रहते हैं
  • चाय-कॉफी पीने से भी हेयर फॉल होता है
  • डॉक्टर ने दी सही सलाह

Hair Fall: पुरुष हो या महिला, हर किसी को घने, चमकीले, काले और लहराते बाल पसंद होते हैं. लेकिन आज की लाइफस्टाइल में बाल झड़ना या गिरना एक आम समस्या हो गई है, जिससे अक्सर महिला और पुरुष दोनों परेशान रहते हैं. जिनको हेयर फॉल होता है, वे बालों का झड़ना रोकने के लिए शैंपू, कंडीशनर, थैरेपी, मसाज, नेचुरल तरीके अपनाते हैं लेकिन फिर भी कुछ लोगों को कोई असर नहीं होता.

हाल ही में एक डॉक्टर ने खुलासा किया है कि बालों का गिरना आपकी सुबह की लाइफस्टाइल पर भी काफी हद तक डिपेंड करता है. दरअसल, सुबह सबसे पहले लोग अपनी सुबह की शुरुआत एक कप चाय-कॉफी से करते हैं. माना कि सुबह की एक कप कॉफी आपको एनर्जी दे सकती है लेकिन यह बालों को काफी नुकसान पहुंचाती है और हेयर फॉलो का कारण बन सकती है. ब्लैक टी और कॉफी में मौजूद तत्व आयरन लेवल पर दबाव डाल सकते हैं, जिससे बालों का झड़ना बढ़ जाता है.

क्या कहती हैं डॉक्टर

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Dr Sara Kayat (@drsarakayat)

इंग्लैंड में रहने वाले फेमस न्यूट्रिशनिस्ट और डॉक्टर सारा कायत (Dr. Sara Kayat) के मुताबिक, 1 दिन में लगभग 100 से 150 बाल झड़ना सामान्य है, लेकिन जिन लोगों का स्ट्रेस लेवल हाई होता है, उनमें अधिक हेयर फॉल हो सकता है. लेकिन अगर हेयर फॉलो से बचना चाहते हैं तो स्ट्रेस को कम करने के साथ-साथ कैफीन का सेवन भी कम करना होगा. 

डॉ. सारा आगे कहती हैं, ब्लैक टी और कॉफी में पाया जाने वाला टैनिन आयरन के अवशोषण को रोक सकता है, जिससे आयरन की कमी का खतरा बढ़ सकता है और बाल झड़ने लगते हैं. यदि आप अधिक ब्लैक टी पीते हैं तो कोशिश करनी चाहिए कि उसका सेवन कम कर दें या फिर उससे भी अच्छा यह होगा कि ब्लैक टी की जगह ग्रीन टी पिएं. कॉफी में लगभग 4.6 प्रतिशत टैनिन होता है, जबकि चाय में लगभग 11.2 प्रतिशत टैनिन होता है. टैनिन वे अणु होते हैं जो प्रोटीन से चिपके रहते हैं और पेड़ की लकड़ी और छाल, कच्चे फलों और पौधों की पत्तियों में पाए जाते हैं. 

लैक्टोज असहिष्णुता वाले लोगों को भी होता है हेयर फॉल

सिर्फ आयरन की कमी वाले लोगों को ही हेयर फॉल नहीं होता बल्कि उन लोगों में भी होता है जिनमें लैक्टोज से एलर्जी पाई जाती है. ऐसे में लोग डेयरी प्रोडक्ट की मात्रा कम नहीं करते और उनका हेयर फॉल होता रहता है. इसलिए हमेशा लैक्टोज से एलर्जी वाले लोगों को ऐसे उत्पादों से बचने की कोशिश करनी चाहिए जो बालों के झड़ने और झड़ने को रोकने की प्रोसेस को प्रभावित करते हैं. 

लैक्टोज इनटॉलरेंस वाले लोगों को उन प्रोडक्ट का सेवन करने से सोरायसिस जैसी त्वचा की समस्या बढ़ सकती है और एक्जिमा, रूसी हो सकती है जो स्कैल्प की हेल्थ को प्रभावित करते हैं. अच्छे बालों के लिए हेल्दी स्कैल्प काफी जरूरी है क्योंकि संक्रमण, रूसी, तेल आदि बालों की ग्रोथ को प्रभावित करते हैं. 

अगर स्कैल्प में खुजली हो रही है, रूसी है, त्वचा लाल है तो इसका मतलब है कि स्कैल्प की सेहत सही नहीं है. इसके लिए आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए. 

प्रोडक्ट का लेवल पढ़ना है जरूरी

डॉ. कायत ने कहा, आपको कोई भी हेयर प्रोडक्ट लेते समय उसका लेवल जरूर देखना चाहिए कि उसमें अल्कोहल तो शामिल नहीं है? क्योंकि ये आपके बालों को नुकसान पहुंचा सकता है और स्कैल्प को ड्राय बना सकता है. 

हेयरस्प्रे से बालों को स्टाइल बिल्कुल न करें. दरअसल, हेयरस्प्रे का बार-बार उपयोग करने से बाल में डैंड्रफ जैसे कणों की परतें बन सकती है, जिसके कारण बाल झड़ सकते हैं. यदि आप अपने बालों को हेयरस्प्रे से स्टाइल कर रहे हैं तो स्टाइलिंग प्रोडक्ट को स्कैल्प पर कभी न लगाएं और नुकसान से बचने के लिए सोने से पहले अच्छे से बालों को धो लें. 

डॉ. कायत ने आगे कहा, तनाव भी हेयरफॉल का आम कारण है. इसलिए मैं तनाव कम करने के लिए योग, एक्सरसाइज, मेडिटेशन करने की सलाह देती हूं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें