scorecardresearch
 
लाइफस्टाइल न्यूज़

Corona Virus: हार्ट बीट से भी पहचान सकते हैं कोरोना पॉजिटिव होने का साइन, रिपोर्ट में दावा

हार्ट बीट देगी कोरोना पॉजिटिव होने का संकेत
  • 1/7

पूरी दुनिया में कोविड-19 के बढ़ते मामले और ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन से लोग खौफजदा हैं. कोरोना वायरस के लक्षण और तमाम मेडिकल समस्याओं के बारे में लगभग सभी को जानकारी है. लेकिन एक नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि इंसान की दिल की धड़कन में आया बदलाव उसके कोरोना संक्रमित होने या न होने की तरफ इशारा करता है. यानी आपकी हार्ट बीट में असामान्य बदलाव कोरोना पॉजिटिव होने का संकेत हो सकता है.

Photo: Getty Images

कब बढ़ सकता है खतरा?
  • 2/7

यह स्टडी 'कोविड-19 सिम्पटम्स स्टडी एप' द्वारा 40 लाख से ज्यादा डेटा के अध्ययन पर आधारित है. इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दिल की धड़कन की गति संकेत दे सकती है कि संबंधित व्यक्ति कोरोना की चपेट में आया है या नहीं. एप के शोधकर्ताओं की मानें तो कोविड-19 धड़कन की असामान्य गति या हाई हार्ट रेट का कारण बन सकता है. इसमें इंसान की धड़कन 100 बीट्स प्रति मिनट के ऊपर तक जा सकती है.

Photo: Getty Images

हार्ट बीट चेक करने से पहले क्या करें?
  • 3/7

हार्ट बीट से कोरोना संक्रमण की पहचान करने से पहले कम से कम पांच मिनट आराम करें. इसके बाद अंगूठे के बगल वाली और बीच वाली उंगली से अपनी पल्स रेट की जांच करें. इस दौरान कलाई की नस या गर्दन के पास 'विंड पाइप' को हल्के से प्रेस करें. हार्ट बीट को 30 सेकेंड तक काउंट करें और फिर उसे 2 से गुणा कर दें. आपकी हार्ट बीट का सही रेट सामने आ जाएगा.

60-100 के बीच सब सामान्य
  • 4/7

एक्सपर्ट्स का कहना है कि पल्स बीट की एक रेगुलर रिदम सामान्य होती है. अगर आपका हार्ट रेट 60 से 100 बीट्स प्रति मिनट है तो सब सामान्य है. लेकिन अगर हार्ट रेट 100 से ज्यादा जा रहा है तो कुछ समस्या हो सकती है.

Photo: Getty Images

ब्रिटेन में न्यू स्ट्रेन
  • 5/7

बता दें कि यूनाइटेड किंगडम जो कि कोविड-19 की वैक्सीन रोलआउट करने वाला दुनिया पहला देश बना था, लेकिन आज रूप बदलने वाले वायरस का केंद्र बन गया है. इस वजह से पूरे देश में उथल-पुथल मची हुई है. ऐसी परिस्थितियों में सरकार और पब्लिक हेल्थ ऑफिशियल्स लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं.

Photo: Reuters

दक्षिण अफ्रीका में तबाही
  • 6/7

बता दें कि यूनाइटेड किंगडम जो कि कोविड-19 की वैक्सीन रोलआउट करने वाला दुनिया पहला देश बना था, आज रूप बदलने वाले वायरस का केंद्र बन गया है. इस वजह से पूरे देश में उथल-पुथल मची हुई है. ऐसी परिस्थितियो में सरकार और पब्लिक हेल्थ ऑफिशियल्स लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं.

Photo: Reuters

एक दिन में 422 मौत
  • 7/7

उधर नए स्ट्रेन के आने से दक्षिण अफ्रीका में भी हालात काफी बदतर होते जा रहे हैं. देश में मृतकों की बढ़ती संख्या के चलते ताबूतों की कमी पड़ने लगी है. डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, यहां कोरोना से होने वाली मौतें पहले की तुलना 120 फीसदी बढ़ गई हैं. बुधवार को देश में बुधवार को यहां 422 लोगों की मौत हुई थी जबकि 15 हजार से अधिक लोग संक्रमित पाए गए थे.

Photo: Reuters