scorecardresearch
 

सर्दियों में भी बने रहें सेहतमंद

ठंड के मौसम में धमनियां सिकुड़ने से दिल को खून और ऑक्सीजन की कमी हो जाती है. इससे इस मौसम में लोगों को ब्लड प्रेशर और डिप्रेशन की शिकायत होने लगती है.

नियमित पौष्टि‍क आहार लें नियमित पौष्टि‍क आहार लें

सर्दियाें का स्वास्थ्य पर काफी असर पड़ता है. ऐसे में यह जानना जरूरी है कि इन मौसमी बीमारियों से सुरक्ष‍ित कैसे रहा जाए. इस बारे में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के डॉ. के. के. अग्रवाल का कहना है कि सर्दियों में दिल और दिमाग के दौरे व कार्डियक अरेस्ट की वजह से मृत्यु दर बढ़ जाती है.

इसके कई कारण होते हैं. एक तो ठंड के मौसम में दिन छोटे होते हैं जिससे हार्मोन्स में असंतुलन पैदा हो जाता है और शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है. इससे दिल और दिमाग पर काफी असर पड़ता है.

डॉक्टर अग्रवाल के अनुसार, ठंड के मौसम में दिल की धमनियां सिकुड़ जाती हैं जिससे दिल को खून और ऑक्सीजन की कमी हो जाती है. इससे ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है. इस मौसम में खासकर उम्रदराज लोगों को डिप्रेशन की शिकायत भी हो जाती है. इसके चलते तनाव और हाइपरटेंशन काफी बढ़ जाता है. सर्दियों के अवसाद से पीड़ित लोग अक्सर ज्यादा चीनी, सोडियम और ज्यादा कैलोरी वाला खाना खाने लगते हैं. इनसे मधुमेह और हाइपरटेंशन का खतरा बढ़ जाता है. ऐसे में कुछ बातों को ध्यान में रखकर आप सर्दियों में भी सेहतमंद बने रह सकते हैं.

ध्यान रखने योग्य बातें:

1. अच्छी सेहत के लिए साॅल्यूबल और इनसाॅल्यूबल फाइबर से भरपूर आहार लें. जिसमें इसबगोल का छिलका, सेब और दालें खाना फायदेमंद रहेगा.

2. उचित मात्रा में पानी पीने से ऊर्जा और बेहतर पाचन बना रहता है. अपने दिन की शुरुआत नाश्ते से पहले आधा लीटर पानी पीकर करें और हर घंटे बाद उचित मात्रा में पानी पीते रहें.

3. कच्चे फल, सब्जियां, अंकुरित अनाज, सूखे मेवे और विभिन्न प्रकार के बीज अपने आहार में शामिल करें. कच्चे आहार में पर्याप्त मात्रा में एंजाइम, विटामिन और रोग प्रतिरोधक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं .

4. धूप लेना न भूलें. 80 से 90 प्रतिशत लोग विटामिन डी की कमी से पीड़ित हैं जो सर्दी के अवसाद, जोड़ों के दर्द, रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी का कारण बनता है.

5. अच्छे भोजन में सात रंग और 6 स्वाद शामिल होते हैं. लाल सेब लाइकोपीन, हरी पत्तेदार सब्जियों और फलों में बी काॅम्पलेक्स और नारंगी चीजों में विटामिन सी मिलता है. इसी तरह मीठे, कसैले और नमकीन स्वाद वजन बढ़ाते हैं. तीखे, खट्टे और कड़वे स्वाद वजन कम करते हैं. हो सके तो नियमित रूप से पौष्ट‍िक आहार लें.

6. धूम्रपान करते हैं तो छोड़ने की कोशिश करें. सर्दियों में धूम्रपान करने से सांस से जुड़ी समस्याएं ज्यादा बढ़ जाती हैं जो दिल के दौरे का खतरा भी बढ़ाती हैं.
इनपुट: IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×