scorecardresearch
 

इन घरेलू उपायों से दूर हो जाएगी 'उन दिनों' की समस्या

कई ऐसे घरेलू उपाय हैं जिन्हें आजमाकर पीरियड्स के दर्द को कम किया जा सकता है. इन छोटे-छोटे उपायों को महीनेभर करने से पीरियड्स के दौरान दर्द से राहत पाई जा सकती है.

पीरियड का दर्द पीरियड का दर्द

क्या महीने के वो दिन आपके लिए भी किसी बुरे सपने की तरह होते हैं? कई औरतों को महीने के उन दिनों में बहुत अधिक तकलीफ से गुजरना पड़ता है. दर्द के साथ ही कई महिलाओं में चिड़चिड़ापन भी आ जाता है. ये सब कुछ हॉर्मोनल बदलाव की वजह से होता है. कई बार समस्या इतनी अधिक हो जाती है और दर्द इस कदर बढ़ जाता है कि उसे बर्दाश्त कर पाना असंभव हो जाता है.

हालांकि बाजार में कई ऐसी दवाइयां मौजूद हैं जिन्हें लेने से दर्द कम हो जाता है लेकिन खुद डॉक्टर्स भी इन्हें सुरक्षित नहीं मानते हैं. ऐसे में दवाइयां लेना कई बार नुकसानदेह भी साबित हो सकता है. दवाइयों के सेवन से कई बार पीरियड्स डिस्टर्ब हो जाता है और कई तरह की दूसरी हॉर्मोनल समस्याएं हो जाती हैं.

कई ऐसे घरेलू उपाय हैं जिन्हें आजमाकर पीरियड्स के दर्द को कम किया जा सकता है. इन छोटे-छोटे उपायों को महीनेभर करने से पीरियड्स के दौरान दर्द से राहत पाई जा सकती है. अच्छी बात यह है कि इनके इस्तेमाल से किसी प्रकार का साइड-इफेक्ट नहीं होता है.

1. सप्लीमेंट्स लेती रहें
महिलाओं को नियमित तौर पर कैल्शियम और मैग्नीशियम सप्लीमेंट लेते रहना चाहिए. ये दोनों ही तत्व मांसपेशियों को आराम पहुंचाने में मददगार होते हैं. हर महिला को अपने शरीर के अनुसार कैल्शियम और मैग्नीशियम की मात्रा की आवश्यकता होती है. ऐसे में डॉक्टर से परामर्श लेकर इन सप्लीमेंट्स का सेवन करें.

2. चाय पीने से भी मिलती है राहत
हालांकि पीरियड्स के दौरान ग्रीन-टी पीना भी फायदेमंद रहता है लेकिन अगर आपको रसभरी की पत्त‍ियां मिल जाएं तो उससे बेहतर कुछ भी नहीं. रसभरी कर पत्‍त‍ियों की चाय पूरे महीने पीना फायदेमंद होता है. इससे पीरियड्स के दौरान कम दर्द होता है.

3. हरी सब्ज‍ियों का सेवन
हरी शाक-सब्ज‍ियों में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है. साथ ही इनमें कैल्शियम और भारी मात्रा में माइक्रोन्यूट्रीएंट्स भी होते हैं. ये सभी तत्व मांसपेशियों को रीलैक्स रहने में मदद करते हैं.

4. हीटिंग पैड का इस्तेमाल
अगर आपको पीरियड्स के दौरान बहुत अधिक दर्द होता है तो इस दौरान अपने पास एक हीटिंग पैड जरूर रखें. इससे मांसपेशियों का खिंचाव कम हो जाता है.

5. एक्यूपंचर भी है एक उपाय
कई ऐसे एक्यूपंचर प्वाइंट होते हैं जिन पर प्रेशर डालने से ब्लड-फ्लो रेग्युलेट होता है. इस उपाय से भी पीरियड्स के दर्द में राहत मिलती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें