scorecardresearch
 

चॉकलेट के इस गुण के बारे में आपको शायद ही पता हो

कोकोआ में मौजूद गुण गले में हुए संक्रमण में आराम पहुंचाता है. इसका कारण यह है कि यह कफ सीरप की तुलना में अधिक अच्छी तरह से चिपकता है और बेहतर लेप का काम करता है.

चॉकलेट है बहुत फायदेमंद चॉकलेट है बहुत फायदेमंद

खांसी होने पर हममें से ज्यादातर लोग दवा लेने के बजाय घरेलू उपायों पर ही भरोसा करते हैं. पर अगली बार शहद, अदरक और काढ़ा जैसे घरेलू उपायों को आजमाने से पहले चॉकलेट का उपाय अपनाकर देखें. एक अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट के अनुसार, चॉकलेट खाने से खांसी में राहत मिलती है.

हुल विश्वविद्यालय में हृदय और श्वसन अध्ययन के प्रमुख प्रोफेसर एलिन मोरिस का मानना है कि चॉकलेट खाकर खांसी रोकी जा सकती है. मोरिस के अनुसार, अध्ययनों में पाया गया है कि खांसी के मरीज जब चॉकलेट या उसके सत्व वाली दवा लेते हैं तो उन्हें दो दिन के भीतर ही राहत मिल जाती है.

लंदन के इंपीरियल कॉलेज में हुए एक शोध में पाया गया है कि कोकोआ में पाया जाने वाला एक अल्केलॉइड थियोब्रोमिन खांसी को कोडीन से बेहतर तरीके से रोक सकता है. कोडीन खांसी की दवा में पाया जाने वाला एक आम यौगिक है.

खांसी में चॉकलेट से आराम क्यों मिलता है? शोधार्थियों का दावा है कि कोकोआ में मौजूद गुण गले में हुए संक्रमण में आराम पहुंचाते हैं. इसका कारण यह है कि यह कफ सीरप की तुलना में ज्यादा बेहतर तरीके से चिपकता है और बेहतर लेप का काम करता है. इससे संक्रमण में राहत मिलती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें