scorecardresearch
 
सेहत

Aging: क्या आप वक्त से पहले हो रहे हैं बूढ़े? इन 10 संकेतों को पहचानें

बुढ़ापे के लक्षण
  • 1/11

उम्र के साथ बुढ़ापा आना आम बात है लेकिन कुछ लोगों में इसके लक्षण पहले ही दिखाई देने लगते हैं. कुछ खास संकेत बताते हैं कि आप बूढ़े हो रहे हैं और आपको अपनी सेहत का ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत है. आइए जानते हैं इन लक्षणों के बारे में.
 

धीरे-धीरे टहलना
  • 2/11

धीरे-धीरे टहलना- अगर आप 40 की उम्र में हैं और आपकी चाल धीमी हो चुकी हो तो ये इस बात का एक संकेत है कि आप में बुढ़ापे के लक्षण जल्दी आ रहे हैं. टहलने से ज्यादा आसान और अच्छी एक्सरसाइज कुछ नहीं है. आप 5 मिनट से लेकर 30 मिनट तक टहल सकते हैं. एक मिनट में 100 कदम चलने की कोशिश करें.
 

सन स्पॉट स्किन
  • 3/11

सन स्पॉट स्किन- 50 साल के बाद ज्यादातर लोगों के चेहरे, हाथ और बाजू पर भूरे रंग के निशान पड़ने लगते हैं जिसे सन स्पॉट कहा जाता है. ये बहुत सामान्य है इससे कोई नुकसान नहीं होता है लेकिन अगर ये काले रंग का है, वहां खून जम रहा है या वहां की स्कीन रूखी है तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें. ऐसी स्थिति में धूप में जाने से बचें.
 

कमजोर यादाश्त
  • 4/11

कमजोर याददाश्त- उम्र बढ़ने के साथ-साथ याददाश्त का कमजोर होना स्वाभाविक है. इसकी शुरूआत 40 की उम्र से हो सकती है. आपको लोगों के नाम या फिर कोई घटना याद करने में मुश्किल हो सकती है. हालांकि अल्जाइमर और डिमेंशिया जैसे रोग अधिकतर 65 साल के बाद ही होते हैं. अपने दिमाग को तेज करने के लिए हेल्दी चीजें खाएं और एक्सरसाइज करें.
 

जोड़ों का दर्द
  • 5/11

जोड़ों का दर्द- बुढ़ापे में हर किसी को जोड़ों का दर्द नहीं होता है लेकिन उम्र बढ़ने के साथ-साथ ऑस्टियोआर्थराइटिस की संभावना बढ़ जाती है. पुरुषों में 45 और महिलाओं में 55 साल के बाद इसके लक्षण दिखाई देते हैं. इसका कोई सटीक इलाज नहीं है लेकिन एक्सरसाइज, स्ट्रेंथ ट्रेनिंग और वॉक के जरिए आप इसके लक्षणों को कम कर सकते हैं.
 

रूखी स्किन
  • 6/11

रूखी स्किन- उम्र के साथ-साथ चेहरे की नमी कम होने लगती है. 40 साल के बाद चेहरा रूखा और बेजान होने लगता है. हालांकि उम्र से पहले ड्राइ स्किन की और भी वजहें हो सकती हैं. इससे बचने के लिए गर्म पानी से चेहरा धोने से बचें, मॉइश्चराइजर लगाते रहें और लिक्विड डाइट ज्यादा लें.
 

सीढ़ी चढ़ने में परेशानी होना
  • 7/11

सीढ़ी चढ़ने में परेशानी होना- कभी-कभार सीढ़ी चढ़ने में दिक्कत होना सामान्य बात है. अगर ये दिक्कत उम्र बढ़ने के साथ हो रही है तो आपको रोजमर्रा के और भी कई कामों में दिक्कत हो सकती है. इसके अलावा आपको संतुलन बनाने में भी परेशानी हो सकती है. 
 

मोटी कमर
  • 8/11

मोटी कमर- उम्र बढ़ने के साथ-साथ बॉडी फैट कमर पर आने लगता है. खासतौर से मेनोपॉज के बाद महिलाओं में ये आम है. वजन बढ़ने के साथ-साथ दिल की बीमारियों और टाइप 2 डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है. महिलाओं में 35 और पुरुषों की 40 इंच से ज्यादा कमर खतरे का संकेत है. इसके लिए आप नियमित तौर पर एक्सरसाइज करनी चाहिए.
 

हाथों की पकड़
  • 9/11

हाथों की पकड़- उम्र के साथ-साथ हाथों की पकड़ ढीली पड़ने लगती है. जैसे कि कोई जार खोलने में दिक्कत महसूस होना. 50 साल की उम्र के बाद हाथों की मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं. अगर आपको समय से पहले ये दिक्कत हो रही है तो ये अर्थराइटिस, नर्व डैमेज और सेहत से जुड़ी अन्य दिक्कत हो सकती है.
 

आंखों की समस्या
  • 10/11

आंखों की समस्या- अगर आप 40 साल के आसपास हैं तो आपकी पास की नजर कमजोर हो सकती है. उम्र बढ़ने के साथ-साथ मोतियाबंद और ग्लूकोमा की शिकायत की भी बढ़ने लगती है. समय से पहले इन संकेतों से बचने के लिए स्मोकिंग छोड़ें, हेल्दी खाना खाएं और एक्सरसाइज करें.
 

अनियमित पीरियड्स
  • 11/11

अनियमित पीरियड्स- 30 से लेकर 40 साल की उम्र के बीच में पीरियड्स पहले की तरह नियमित नहीं रहते हैं. इसे प्री मेनोपॉज कहते हैं. इस समय शरीर में कम एस्ट्रोजन बनता है. अगर 30 की उम्र में आपके पीरियड्स में अचानक बदलाव आता है और आपके पेट में बहुत दर्द होता है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें. ये समय से पहले मेनोपॉज का संकेत हो सकता है.