scorecardresearch
 

Kedarnath Yatra: बाबा केदार के धाम में अब नहीं होंगे VIP दर्शन, बढ़ती भीड़ को लेकर उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला

बाबा केदारनाथ के धाम (Baba Kedarnath Dham) में VIP दर्शन अब नहीं होंगे. इस संबंध में सरकार जल्द आदेश जारी करेगी. चारधाम यात्रा में बढ़ती भीड़ को लेकर शासन ने यह निर्णय लिया है. इस संबंध में लिखित आदेश भी जल्द जारी किए जाएंगे.

X
बाबा केदार के धाम में अब VIP दर्शन पर रोक. बाबा केदार के धाम में अब VIP दर्शन पर रोक.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारी भीड़ के कारण सी​मित कर ​दिए गए हैं रजिस्ट्रेशन
  • अब तक 28 यात्रियों की जा चुकी है जान

Chardham Yatra 2022: बाबा केदारनाथ के धाम (Baba Kedarnath Dham) में अब VIP दर्शन पर रोक लगा दी गई है. इस संबंध में आदेश जल्द जारी कर दिए जाएंगे. सरकार ने चारधाम यात्रा पर बढ़ती भीड़ को लेकर यह निर्णय लिया है. वीआईपी दर्शन पर रोक लगाए जाने के लिखित आदेश जल्द जारी होंगे. वहीं मुख्यमंत्री धामी ने लोगों से अपील की है कि अगर सेहत ठीक न हो तो यात्रा से बचें, कुछ समय के लिए यात्रा टाल दें.

चारधाम यात्रा पर लोगों के भीड़ को देखते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपील की है कि जो लोग पूरी तरह से स्वस्थ न हों, वे यात्रा से बचें. उन्होंने कहा कि लोग फिलहाल कुछ समय के लिए यात्रा को टालें. वहीं इस समय विपक्ष चारधाम यात्रा पर हो रहीं मौतों और सरकार की व्यवस्थाओं को लेकर सरकार पर हमलावर है.

बता दें कि चारधाम यात्रा पर रोजाना लाखों लोग आ रहे हैं. प्रतिदिन लोगों की संख्या बढ़ रही है, इससे यात्रा मार्गों से लेकर चारों धामों में व्यवस्थाएं चरमरा गई हैं. जगह-जगह घंटों तक जाम लग रहा है. रुकने तक के लिए लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. यात्रा के लिए लाखों रजिस्ट्रेशन पहले ही हो चुके हैं और रोजाना लाखों लोग रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं. भारी भीड़ के चलते और लगातार हो रही मौतों पर अब उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने लोगों से अपील की है.

स्वस्थ न हों तो यात्रा से बचें, कुछ समय के लिए टाल दें यात्रा... मुख्यमंत्री धामी की अपील 

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि पिछले दो साल से यात्रा बंद होने के कारण अचानक इस बार अत्यधिक भीड़ हो रही है. उन्होंने चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि जब तक उनके रुकने और खाने की पहले से व्यवस्था न हो, तब तक यात्रा को टाल दें, क्योंकि चारों धामों में सीमित संसाधन हैं. उन्होंने कहा कि पहले से बीमार लोग यात्रा न करें, जो लोग आ रहे हैं, वो अपना स्वास्थ्य चेकअप करने के पश्चात ही आएं और रजिस्ट्रेशन जरूर कराएं.

चारधाम की व्यवस्थाओं को लेकर कांग्रेस सरकार पर हमलावर है. कांग्रेस इसे सीधे-सीधे सरकार की नाकामी बता रही  है. कांग्रेस की गरिमा दशोनी ने कहा कि जिस प्रकार लोगों की मौतें हो रही हैं और केंद्र सरकार को यहां पर आईटीबीपी और एनडीआरफ को तैनात करना पड़ा, उससे साफ है कि राज्य सरकार चारधाम यात्रा कराने में पहले ही हफ्ते में फेल हो गई. उन्होंने कहा कि जगहृजगह अव्यवस्था फैली है और सरकार के पर्यटन मंत्री विदेश यात्रा पर हैं.

अब तक चारधाम यात्रा पर जाने वाले 33 लोगों की हो चुकी मौत

चारधाम की यात्रा पर जाने वाले अब तक 33 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें यमुनोत्री में 13, गंगोत्री में 3, बद्रीनाथ में 6, केदारनाथ में 11 लोगों की जान चली गई. इसमें एक व्यक्ति की मौत पैर फिसलकर खाई में गिरने से और एक की मौत पत्थर लगने के कारण हुई है. बाकी सभी मौतें हार्ट अटैक से बताई जा रही हैं. आज बद्रीनाथ धाम में GMVN मैनेजर की भी मौत का कारण हार्ट अटैक ही बताया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें