scorecardresearch
 

Uttar Pradesh: लाउडस्पीकर से स्पीड ब्रेकर तक... CM योगी ने दिए ये 10 बड़े निर्देश

UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में जहां कहीं भी मानक के विपरीत स्पीड ब्रेकर बने हैं, उन्हें तत्काल हटाया जाए और टेबल टॉप स्पीड ब्रेकर बनाए जाएं.

X
समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश देते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.
समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश देते मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • धर्मिक स्थलों से हटाए गए लाउडस्पीकर स्कूलों में इस्तेमाल करने की सलाह
  • सीएम योगी ने स्पीड ब्रेकर को ‘कमरतोड़ू’ न बनाए जाने के निर्देश दिए

उत्तर प्रदेश में लाउडस्पीकर से लेकर स्पीड ब्रेकर तक कई बड़े मसलों पर आदेश जारी किए गए हैं. दरअसल, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बुधवार को कई मुद्दों पर समीक्षा की. उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थलों से हटाए गए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल स्कूलों में किया जा सकता है.

सीएम योगी ने आगे कहा कि स्पीड ब्रेकर को ‘कमरतोड़ू’ न बनाया जाए. ऐसे स्पीड ब्रेकर बीमार व्यक्तियों और गर्भवती महिलाओं के लिए खतरनाक हो सकते हैं. प्रदेश में जहां कहीं भी मानक के विपरीत स्पीड ब्रेकर बने हैं, उन्हें तत्काल हटाया जाए और टेबल टॉप स्पीड ब्रेकर बनाए जाएं. आइए जानते हैं वीडियों कांफ्रेंसिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को और क्या आदेश दिए.

सीएम योगी ने दिए ये 10 बड़े निर्देश

  1. धार्मिक स्थलों से हटाए गए लाउडस्पीकर दोबारा न लगें. धार्मिक परिसर से लाउडस्पीकर की आवाज नहीं आनी चाहिए.
  2. इस बार सड़कों पर 'अलविदा की नमाज' नहीं हुई. सुनिश्चित करें कि जनता की आवाजाही के लिए सड़कें खुली रहें.
  3. अतिक्रमण से निपटें. तय करें कि पटरी वाले तय स्थान के बाहर दुकान न लगाएं. पार्किंग व्यवस्था को सुदृढ़ करें.
  4. सड़क, ओवरब्रिज पर स्टंट करने वालों पर लगाम लगाई जाए. हेलमेट-सीटबेल्ट का प्रयोग कड़ाई से लागू किया जाए.
  5. सड़क सुरक्षा अभियान चलाया जाए. स्कूली बच्चे प्रभात फेरी निकालकर लोगों को ट्रैफिक नियमों की जानकारी दें. 
  6. सुनिश्चित किया जाए कि अनफिट और बिना परमिट के स्कूली बसों का संचालन न किया जाए.
  7. अवैध स्टैंड समाप्त करने की कार्रवाई 48 घंटे में करें. पार्किंग की जगह सुनिश्चित करें. 
  8. माफिया प्रवृत्ति के लोगों को ठेका-पट्टों के साथ न जुड़ने दें. ऐसा होने पर पूरा गैंग वहां अनैतिक गतिविधियों का अड्डा बना देगा.
  9. हर एक माफिया की कमर तोड़ी जाए. सड़क किनारे से अपर्याप्त पार्किंग वाले अवैध ढाबों को हटाया जाए.
  10. हाई-वे, एक्सप्रेस-वे, पीडब्ल्यूडी, नगर विकास या किसी अन्य विभाग से जुड़ी सड़कों से भी अवैध अतिक्रमण हटाया जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें