scorecardresearch
 

बालिका सुरक्षा पर UP सरकार का फरमान, हर जिले में बनेगी जागरूकता टीम

उत्तर प्रदेश में बच्चियों की सुरक्षा को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. अब हर जिले में बालिका सुरक्षा जागरूकता टीम बनेंगी, जो बालिका सुरक्षा को लेकर अभियान चलाएगी. 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो-PTI) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो-PTI)

उत्तर प्रदेश में बच्चियों की सुरक्षा को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. अब हर जिले में बालिका सुरक्षा जागरूकता टीम बनेंगी, जो बालिका सुरक्षा को लेकर अभियान चलाएगी. मुख्य सचिव की तरफ से सभी जिलों के जिलाधिकारी और एसएसपी को निर्देश जारी कर दिया गया है.

योगी आदित्यनाथ सरकार ने नए फरमान के अनुसार, बालिका सुरक्षा जागरूकता टीम दो पुलिस अधिकारी, कर्मचारी और महिला एवं बाल विकास विभाग के एक्सपर्ट शामिल होंगे. यह टीम 1 जुलाई से 31 जुलाई तक स्कूलों और कॉलेजों में जाकर लड़कियों को सुरक्षा के लिए जागरूक करेगी.

बच्चों की सुरक्षा दुरुस्त रखने के वास्ते राज्य के मुख्यमंत्री योगी  ने 10 जून को प्रशासनिक और पुलिस के अलावा अन्य अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. उन्होंने अलीगढ़ के टप्पल में ढाई साल की मासूम की हत्या के बाद महिलाओं-बच्चियों की सुरक्षा को लेकर अफसरों के पेंच कसे.

समीक्षा बैठक में सीएम योगी ने कहा कि ऐसी वारदातें यहां न हों वहीं महिलाएं-बच्चियां सुरक्षित रहें. इसके लिए जरूरी उपाय किए जाएं. महिलाओं के प्रति अपराध पर गंभीरता से कार्य करें क्योकि लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी.

गौरतलब है कि अलगीगढ़ के टप्पल इलाके में पैसे के लेन-देन को लेकर हुए विवाद के कारण ढाई साल की एक बच्ची की हत्या करके उसका शव कूड़े के ढेर में डाल दिया गया था. बच्ची की निर्मम हत्या के बाद लोगों को आक्रोश फूट पड़ा है. इलाके के लोग सड़कों पर उतर आए हैं. ये सभी बच्ची के लिए इंसाफ की मांग कर रहे थे. कस्बे में रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ), पीएसी कई थानों की पुलिस फोर्स को तैनात करना पड़ा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें