scorecardresearch
 

सपा में पार्टी विलय से चाचा शिवपाल का इनकार, भतीजे अखिलेश से गठबंधन को तैयार

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा कि समाजवादियों ने समाज के दम पर चार बार सरकार बनाई. भाजपा को हराने के लिए पूरे देश के समाजवादियों को एक होना पड़ेगा. साथ ही शिवपाल यादव ने साफ तौर पर कहा कि उनकी पार्टी का सपा में विलय नहीं होगा, लेकिन प्रमुख अखिलेश यादव के साथ गठबंधन के लिए तैयार हैं. 

X
शिवपाल यादव
शिवपाल यादव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शिवपाल ने सपा के साथ गठबंधन का दिया ऑफर
  • शिवपाल ने कहा परिवार को एक होने की जरूरत है
  • सपा में अपनी पार्टी के विलय को शिवपाल ने ठुकराया

सपा से नाता तोड़कर अलग हो चुके  प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव 2022 विधानसभा चुनाव के लिए गैर-भाजपावाद का नारा दिया है. उन्होंने कहा कि समाजवादियों ने समाज के दम पर चार बार सरकार बनाई. भाजपा को हराने के लिए पूरे देश के समाजवादियों को एक होना पड़ेगा. साथ ही शिवपाल यादव ने साफ तौर पर कहा कि उनकी पार्टी का सपा में विलय नहीं होगा, लेकिन प्रमुख अखिलेश यादव के साथ गठबंधन के लिए तैयार हैं. 

शिवपाल यादव ने आजतक से बातचीत करते हुए गैरभाजपावाद का नारा दिया है और सूबे की तमाम राजनीतिक पार्टियों से बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने की अपील की है. उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि सभी समाजवादी एक हों और भाजपा के खिलाफ एक सशक्त विपक्ष खड़ा हो. साथ ही शिवपाल ने कहा कि वह हर तरह के लिए त्याग करने को तैयार हैं लेकिन शर्त यह है कि सभी समाजवादी पार्टी के लोग एक होकर चुनावी मैदान में उतरें. 

उन्होंने साफ कर दिया कि उनकी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का विलय समाजवादी पार्टी में किसी भी सूरत में नहीं होगा, लेकिन वो अखिलेश यादव के साथ गठबंधन करने को तैयार हैं. हालांकि, शिवपाल काफी समय से सपा के साथ गठबंधन करने का ऑफर दे रहे हैं, लेकिन अखिलेश यादव उन्हें अडजस्ट करने की बात कर रहे हैं.

वहीं, शिवपाल से जब यह पूछा गया कि अखिलेश यादव ने जसवंत नगर सीट छोड़ने और सत्ता में आने पर मंत्री बनाने का आश्वासन दे रहे हैं, इस पर उन्होंने कहा कि अखिलेश हमारे लिए सिर्फ एक सीट देने की बात कर रहे हैं, वह तो उनकी ही सीट है. हालांकि, शिवपाल यादव ने कहा कि परिवार को एक होने की जरूरत है. परिवार एक हो जाएगा तो यूपी का चुनाव जीत लेंगे. 

छोटे दलों और खासकर प्रकाश राजभर ओवैसी के साथ गठबंधन पर शिवपाल यादव ने कहा कि उन्होंने गैरभाजपावाद का नारा दिया है और सभी दलों को एक होना होगा. विपक्ष एकजुट होकर चुनावी मैदान में उतेरगा तो जीत निश्चित है. उन्होंने कहा कि गैर-बीजेपी दलों के साथ हाथ मिलाने को पूरी तरह से तैयार हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें