scorecardresearch
 

सीएम अखिलेश के दौरे के दौरान बर्बाद हुआ हजारों लीटर पानी

जबरदस्त सूखे की चपेट में आए देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में एक तरफ लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ सरकारी महकमा सीएम अखिलेश यादव की आगवानी के लिए हजारों लीटर पानी बेवजह बर्बाद करने में कतई नहीं हिचक रहा है.

X
अखिलेश यादव, सीएम यूपी अखिलेश यादव, सीएम यूपी

जबरदस्त सूखे की चपेट में आए देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में एक तरफ लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ सरकारी महकमा सीएम अखिलेश यादव की आगवानी के लिए हजारों लीटर पानी बेवजह बर्बाद करने में कतई नहीं हिचक रहा है.

बुंदेलखंड के ललितपुर में हेलीपैड पर हजारों लीटर पानी बहाए जाने का मामला अभी खत्म भी नहीं हुआ कि अब इलाहाबाद में सीएम अखिलेश यादव को धूल से बचाने के लिए हजारों लीटर पानी बर्बाद किया गया.

...ताकि सीएम तक ना पहुंचे धूल का कण
शनिवार को इलाहाबाद में जिस जगह सीएम अखिलेश यादव का कार्यक्रम होना था, वहां एक दिन पहले से ही उसके आस-पास के इलाके में लगातार पानी का छिड़काव किया गया. शुक्रवार को तकरीबन पांच सौ मीटर के इलाके को पानी में भिगोने के लिए ट्यूबवेल और पम्पिंग सेटों का सहारा लिया गया तो, साथ ही नगर निगम और जल निगम के पचास टैंकरों से भी पूरे दिन पानी का छिड़काव किया गया. सरकारी महकमे ने हजारों लीटर पानी सिर्फ इसलिए बर्बाद किया, ताकि शनिवार को इलाहाबाद पहुंचने पर सीएम अखिलेश यादव तक धूल का एक भी कण न पहुंच सके.

जमकर हुई पानी की बर्बादी
शनिवार को कार्यक्रम के दिन भी धूल से बचने के लिए इसी तरह पानी का छिड़काव किया गया. शनिवार को कार्यक्रम स्थल के आस-पास की जगहों के साथ ही हेलीपैड पर भी पानी छिड़का गया. शुक्रवार को पानी के छिड़काव के अकेले पीडब्लूडी यानी लोक निर्माण विभाग ने पचास कर्मचारियों को लगाया गया था, जबकि जल निगम और नगर निगम के तकरीबन पचास टैंकरों में से हरेक पर तीन से चार स्टाफ की ड्यूटी लगी थी. शुक्रवार और शनिवार को मिलकर करीब 15 हजार लीटर पानी की बर्बादी की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें