scorecardresearch
 

UP में सबसे ज्यादा फेक एनकाउंटर, योगी सरकार पर अखिलेश यादव का निशाना

योगी सरकार पर हमला बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि कस्टोडियल डेथ भी सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में हुई है और एनएचआरसी की तरफ से सबसे ज्यादा नोटिस भी यूपी को ही दिए गए हैं. इस दौरान उन्होंने कहा कि योगी सरकार सपा शासन में किए गए विकास कार्यों को अपना बता रही है.

X
सपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव. (फाइल फोटो)
सपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अखिलेश यादव ने साधा योगी सरकार पर निशाना
  • 'योगी सरकार में सबसे ज्यादा फर्जी एनकाउंटर'
  • NHRC के सबसे ज्यादा नोटिस यूपी को: अखिलेश

समाजवादी पार्टी (SP) प्रमुख अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा फर्जी एनकाउंटर हुए हैं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि राज्य में जाति और धर्म के आधार पर भी  सबसे ज्यादा एनकाउंटर हुए हैं. 

योगी सरकार पर हमला बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि कस्टोडियल डेथ भी सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में हुई है और एनएचआरसी की तरफ से सबसे ज्यादा नोटिस भी यूपी को ही दिए गए हैं. इस दौरान उन्होंने कहा कि योगी सरकार सपा शासन में किए गए विकास कार्यों को अपना बता रही है. प्रदेश में युवाओं के पास रोजगार नहीं है. यह सरकार सही तरीके से काम नहीं कर रही है.

क्या कहते हैं एनसीआरबी के आंकड़े

साल 2020 के एनसीआरबी के डाटा के मुताबिक उत्तर प्रदेश में हर 2 घंटे में एक रेप का मामला रिपोर्ट किया जाता है. जबकि बच्चों के खिलाफ रेप का मामला हर 90 मिनट में रिपोर्ट हुआ है. एनसीआरबी के मुताबिक साल 2018 में उत्तर प्रदेश में रेप के कुल 4322 मामले दर्ज हुए थे. इसका सीधा मतलब है कि हर रोज करीब 12 रेप के मामले हो रहे थे. महिलाओं के खिलाफ 2018 में 59445 मामले दर्ज किए गए. जिसका अर्थ है कि हर रोज महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध के मामले 162 रिपोर्ट किए गए. जोकि साल 2017 के मुकाबले 7 परसेंट ज्यादा हैं.

साल 2017 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 56011 मामले दर्ज किए गए थे. यानी उस वक्त यह आंकड़ा हर दिन के हिसाब से 153 केस था. साल 2018 में नाबालिग बच्चियों के साथ रेप के कुल 144 मामले दर्ज किए गए. जबकि साल 2017 में यह आंकड़ा 139 था. साल 2017 अप्रैल में बीजेपी की सरकार आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बहुत से ऐसे कार्यक्रम शुरू किए जिससे कि महिलाओं के खिलाफ अपराध के आंकड़े कम हो सके. एंटी रोमियो स्क्वॉड, मिशन शक्ति जैसे कार्यक्रम इसीलिए शुरू किए गए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें