scorecardresearch
 

'दूध-दही पर GST लगाकर BJP सरकार ने कृष्ण भक्तों को पहुंचाई चोट', अखिलेश यादव का तंज

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, जय श्री कृष्णा! जन्माष्टमी के ठीक एक महीने पहले भाजपा सरकार ने दूध, दही, छाछ पर GST लगाकर जो चोट कृष्ण भक्तों को दी है, उससे आहत होकर हर एक भोला कृष्ण भक्त पूछ रहा है कि क्या अब दूध का जला, छाछ को भी…दूध का दूध…दूधो नहाओ…दही जमना जैसे लोकोक्ति-मुहावरों पर भी GST देना पड़ेगा?

X
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)
अखिलेश यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • खाद्य पदार्थों पर जीएसटी का अखिलेश यादव ने जताया विरोध
  • अखिलेश बोले- अब क्या मुहावरों पर भी लगेगा टैक्स

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने GST के मुद्दे पर एक बार फिर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है. अखिलेश यादव ने कहा, जन्माष्टमी के ठीक एक महीने पहले भाजपा सरकार ने दूध, दही, छाछ पर GST लगाकर कृष्ण भक्तों को चोट पहुंचाई है. दरअसल, हाल ही में सरकार ने पैक्ड और लेबलयुक्त दूध, दही, दाल, आटा जैसे रोजमर्रा के सामानों पर 5 फीसदी GST लगाने का फैसला किया है. इसे लेकर विपक्ष लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रहा है. 

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा, जय श्री कृष्णा! जन्माष्टमी के ठीक एक महीने पहले भाजपा सरकार ने दूध, दही, छाछ पर GST लगाकर जो चोट कृष्ण भक्तों को दी है, उससे आहत होकर हर एक भोला कृष्ण भक्त पूछ रहा है कि क्या अब दूध का जला, छाछ को भी…दूध का दूध…दूधो नहाओ…दही जमना जैसे लोकोक्ति-मुहावरों पर भी GST देना पड़ेगा?

इससे पहले अखिलेश यादव ने एक और ट्वीट कर जीएसटी के मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश की थी. अखिलेश यादव ने 18 जुलाई को ट्वीट कर कहा था, आज से आटा, दही, पनीर से लेकर ब्लेड, शार्पनर, एलईडी, इलाज, सफ़र सब पर GST की जो मार आम जनता पर पड़ी है उससे दुखी होकर GST का एक नया भाव-अर्थ सामने आया है. 'गयी सारी तनख़्वाह’

सड़क से संसद तक मचा बवाल

देश में महंगाई, एलपीजी की बढ़ती कीमतों, जरूरी खाद्य साम्रगी पर जीएसटी के फैसले को लेकर केंद्र सरकार का विरोध हो रहा है. विपक्ष मॉनसून सत्र में लगातार इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेर रहा है. दिल्ली में घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत 1,053.00 रुपए पहुंच गई है. वहीं, दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 96.72 रुपए प्रति लीटर और डीजल की कीमत 89.62 रुपए प्रति लीटर है. इसके साथ ही 18 जुलाई को जीएसटी में बदलाव हुआ है. इसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर पड़ा है. जीएसटी परिषद डिब्बा या पैकेटबंद और लेबल युक्त मछली, दही, पनीर, लस्सी, शहद, सूखा मखाना, सूखा सोयाबीन, मटर जैसे उत्पाद, गेहूं और अन्य अनाज पर 5% जीएसटी लगाने का फैसला किया है. हालांकि, खुले में बिकने वाले उत्पादों पर जीएसटी से छूट रहेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें