scorecardresearch
 

पुलिस ने दिखाई बर्बरता, हिरासत में किशोर को जमकर पीटा

यूपी के फर्रुखाबाद में पुलिसकर्मियों ने एक किशोर को खम्बे से बांधकर पट्टे से पीटा. किशोर पर लैपटॉप चोरी का आरोप है. पिटाई का वीडियो वायरल हो गया.

पुलिस ने हिरासत में किशोर को पीटा पुलिस ने हिरासत में किशोर को पीटा

यूपी के फर्रुखाबाद में पुलिसकर्मियों ने एक किशोर को खम्बे से बांधकर पट्टे से पीटा. किशोर पर लैपटॉप चोरी का आरोप है. पिटाई का वीडियो वायरल हो गया.

फर्रुखाबाद के मेरापुर थाना क्षेत्र के सुरजीत को पिछले दो दिन पहले एक लैपटॉप चोरी के आरोप में पकड़ा गया. इस किशोर को दो दिन तक थाने में रखा गया. थाने में सुरजीत की खम्बे से बांधकर पट्टे से पिटाई की गई. इस पिटाई का वीडियो किसी ने बनाकर वायरल कर दिया.

जब इस वीडियो की जानकारी थाने के पुलिसकर्मियों को हुई, तब पुलिस ने सुरजीत को दो अन्य लोगों- उमेश और फरीद खां के साथ चोरी की योजना के आरोप में तमंचा, कारतूस और आला नकाब के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

इस मामले में किशोर के पिता का कहना है कि उनका बेटा निर्दोष है और उसे झूठे मामले में पुलिस ने फंसाया है. पीड़ित सुरजीत के पिता ने कहा, 'मेरे बेटे को पुलिस ने लैपटॉप चोरी के आरोप में पकड़ा. आरोप से इनकार करने पर पुलिस ने खम्बे से बांधकर पीटा और जानवरों से भी बदतर व्यवहार किया. आज हमारे बेटे को दूसरे लोगों के साथ जेल भेज दिया.'

फर्रुखाबाद के एसपी दिनेश कुमार ने कहा, 'मेरापुर थाना क्षेत्र के एक युवक की पुलिस द्वारा पिटाई का वीडियो सामने आया है. इस मामले में हमने मेरापुर थाने के थानेदार शालिग्राम वर्मा और दारोगा राम सनेही और दो पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की है. पूरे मामले की जांच भी होगी.'

ड्यूटी से हटाए गए आरोपी पुलिसकर्मी
बहरहाल, सीएम अखिलेश यादव ने उत्पीड़न में शामिल 5 पुलिसकर्मियों को ड्यूटी से हटाने और पुलिस लाइन भेजे जाने का आदेश जारी किया है. आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू कर दी गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें