scorecardresearch
 

पुलवामा हमला: पाकिस्तान के बयान पर शहीद के गांव वाले बोले- 40 जवान के बदले 400 चाहिए

शहीद के भाई बृजेश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान के घमंड को तोड़ना जरूरी है, सरकार को पाकिस्तान के खिलाफ दोबारा सर्जिक स्ट्राइक करना चाहिए. परिजनों का कहना है कि पाकिस्तान के मंत्री के बयान से जख्म हरा हो गया है.

चंदौली के शहीद अवधेश यादव के परिजनों ने जताया गुस्सा चंदौली के शहीद अवधेश यादव के परिजनों ने जताया गुस्सा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शहीद के परिजनों में पाक के खिलाफ आक्रोश
  • पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग की
  • गांव वालों ने की दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक की मांग

पाकिस्तानी सरकार के मंत्री फवाद चौधरी ने गुरुवार को यह स्वीकार कर लिया कि पिछले साल पुलवामा में हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान का ही हाथ था. पाकिस्तानी मंत्री के कुबूलनामे के बाद पुलवामा के शहीदों के परिजनों के जख्म एक बार फिर हरे हो गए हैं.

पुलवामा में शहीद हुए चंदौली के सीआरपीएफ के जवान अवधेश यादव के परिजन और गांव वाले पाकिस्तान के मंत्री के इस बयान के बाद काफी आक्रोशित दिखे. गांव वालों ने 40 जवानों की शहादत के बदले पाकिस्तान के 400 सैनिकों के सफाए की मांग की.

शहीद के पिता हरिकेश यादव और भाई बृजेश कुमार यादव ने सरकार से पाकिस्तान से बदला लेने की मांग की. हरिकेश यादव ने कहा कि पाकिस्तान ने हमारे भारत को झुकाने की कोशिश की है. पाकिस्तान ने अगर हमारे देश में घुसकर हमला किया है तो हमें भी पाकिस्तान को उसकी भाषा में जवाब देना चाहिए. हमारे नेता और हमारे जवान उनसे कम हैं? देश को भी ईंट का जवाब पत्थर से देना चाहिए. शहीद के पिता ने सरकार से पाकिस्तान को ज्यादा से ज्यादा क्षति पहुंचाने की मांग की.

देखें- आजतक LIVE TV

शहीद के भाई बृजेश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान के घमंड को तोड़ना जरूरी है, सरकार को पाकिस्तान के खिलाफ दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक करना चाहिए.

पाकिस्तान के बयान पर गांव वाले भी आक्रोशित हैं, गांव के निवासी गोपी ने कहा, "जिस तरह से इन लोगों ने हमारे 40 जवानों को मारा था, हमें भी उनके 400 जवानों को मारना चाहिए."

उन्होंने कहा कि अब यह स्पष्ट हो गया है कि पाकिस्तान ने ही यह हमला कराया था तो मोदी सरकार को किसी ना किसी तरह से पाकिस्तान से बदला लेना चाहिए, चाहे ये सर्जिकल स्ट्राइक के रूप में हो या आर-पार की लड़ाई के रूप में हो.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें