scorecardresearch
 

शिवपाल यादव के अलग होने से सपा को होगा नुकसान: तेजप्रताप यादव

हाल के दिनों में शिवपाल यादव की नई पार्टी की चर्चा जोरों पर है. इनकी सभाओं में काफी भीड़ भी जुट रही है. इसे देखते हुए समाजवादी पार्टी के भीतर खलबली है क्योंकि अखिलेश से नाराज नेता शिवपाल यादव का रुख कर सकते हैं.

मैनपुरी सांसद तेज प्रताप सिंह यादव मैनपुरी सांसद तेज प्रताप सिंह यादव

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी से सांसद और मुलायम सिंह के पोते तेज प्रताप सिंह यादव ने माना कि शिवपाल यादव के अलग पार्टी बनाने से समाजवादी पार्टी को नुकसान होगा. तेज प्रताप यादव ने आजमगढ़ में माना कि शिवपाल यादव के अलग होने और पार्टी बनाकर अलग करने से समाजवादी पार्टी को नुकसान हो सकता है.

बता दें कि तेज प्रताप यादव मुलायम सिंह के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में थे और आजमगढ़ में उन्होंने पहली बार यह माना कि शिवपाल यादव, समाजवादी पार्टी का नुकसान कर सकते हैं. एक सवाल के जवाब में पत्रकारों से कहा कि जब कोई पार्टी बनती है और किसी पार्टी से टूटकर बनती है तो उसका नुकसान होता ही है.

गौरतलब है कि शिवपाल यादव ने कुछ दिनों पहले समाजवादी सेकुलर मोर्चा बनाकर समाजवादी पार्टी से अलग होने का ऐलान कर दिया था. साथ ही अलग झंडा भी बना लिया और मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी से लोकसभा का अगला प्रत्याशी भी घोषित कर दिया.

विधानसभा चुनाव के समय जिन नेताओं ने पार्टी छोड़कर दूसरी पार्टियों का रुख किया या फिर जो समाजवादी पार्टी में रहते हुए हाशिए पर हैं ऐसे लोग शिवपाल के साथ जुड़ने लगे हैं. यही वजह है कि लगातार उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों का दौरा कर रहे शिवपाल यादव को अच्छी भीड़ भी मिलने लगी है.

शिवपाल के साथ जुटी भीड़ को देखते हुए समाजवादी पार्टी की तरफ से उनपर हमले भी शुरू हो गए हैं. अखिलेश यादव के करीबी पूर्व मंत्री पवन पांडे ने मंगलवार को शिवपाल यादव के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×