scorecardresearch
 

यूपी: कानपुर के मशहूर ज्वेलर पर इनकम टैक्स विभाग की रेड, 4.5 करोड़ रुपये जब्त

आयकर विभाग ने कानपुर में ज्वेलर राजेंद्र अग्रवाल के कई ठिकानों पर छापा मारा है. 4.5 करोड़ रुपये जब्त भी किए गए हैं. इस नकदी का व्यापारी द्वारा कोई हिसाब नहीं दिया गया है.

X
कानपुर में आयकर की रेड (सांकेतिक फोटो) कानपुर में आयकर की रेड (सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जब्त की गई रकम का नहीं दिया गया कोई हिसाब
  • रविवार दोपहर में शुरू हुई थी आयकर की छापेमारी

यूपी चुनाव के दौरान इनकम टैक्स डिपार्टमेंट द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है. केंद्र में बना हुआ है वो कानपुर जहां पर कई बार रेड मारी जा चुकी है. अब ताजा मामला मशहूर सर्राफा कारोबारी राजेंद्र अग्रवाल का है जिनके कई ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की है. 4.5 करोड़ की नकदी बरामद हुई जिसका कोई हिसाब नहीं दिया गया है.

कानपुर फिर बना छापेमारी का केंद्र

बताया गया है कि रविवार दोपहर को छापेमारी का दौर शुरु हुआ था और वो पूरे 24 घंटे तक चलता रहा. सोमवार शाम को आयकर विभाग ने अपनी कार्रवाई खत्म की. इस दौरान कानपुर के कई गोल्ड ज्वेलर के यहां पर रेड मारी गई थी. राजेंद्र अग्रवाल के स्वरूप नगर और सिविल लाइन स्थित घर पर भी छापेमारी की गई थी. इसके अलावा उनके सोना-चांदी नाम के मशहूर दुकान पर भी रेड देखने को मिली.

जानकारी दी गई है कि दिल्ली से आईटी एक्सपर्ट्स को लाया गया था. उन एक्सपर्ट्स द्वारा ही पूरे मामले की फॉरेंसिक जांच की गई है. कई बिल भी अपने कब्जे में ले लिए गए हैं और डेटा भी सुरक्षित कर लिया गया है. इस समय आयकर विभाग का सिर्फ एक ही उदेश्य है- चुनावी मौसम में हर कीमत पर हवाला ट्रांजेक्शन पर रोक लगानी है. इसी वजह से कई ठिकानों पर रोज के छापे देखने को मिल रहे हैं.

इससे पहले कानपुर के इत्र कारोबारी पीयूष जैन, पुष्पराज जैन और फिर नोएडा के पूर्व आईपीएस के यहां पर रेडी मारी जा चुकी है. पूर्व आईपीएस के यहां कुछ दिन पहले ही नोएडा में बड़ी कार्रवाई की गई थी. इनपुट के आधार पर छापा मारा गया था और निजी बेनामी लॉकरों में से 3 करोड़ रुपए तक का कैश बरामद हुआ था.

वहीं इत्र कारोबारी पीयूष जैन के खिलाफ हुई कार्रवाई पर तो जमकर राजनीति की गई थी. बीजेपी का आरोप था कि पीयूष जैन सीधे तौर पर सपा से जुड़ा हुआ है तो अखिलेश ने भी उसे बीजेपी का करीबी करार दिया था. 

सिमर चावला का इनपुट

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें