scorecardresearch
 

जौनपुर के पंचायत चुनाव में 'अभिताभ बच्चन' को 'जनता' ने दी करारी शिकस्त

धर्मापुर विकास खंड के वार्ड संख्या 71 से अमिताभ बच्चन जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे थे. जहां अमिताभ बच्चन को हार का सामना करना पड़ा.  

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मिस इंडिया रनरअप दीक्षा सिंह और लंदन रिटर्न उर्वशी सिंह की हार चर्चा की
  • जनता यादव की जीत से ज्यादा अमिताभ बच्चन के हार के चर्चे

जौनपुर के 83 जिला पंचायत सदस्य वार्ड में बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला है. जहां मिस इंडिया रनरअप दीक्षा सिंह और लंदन रिटर्न IIM पास उर्वशी सिंह की हार की जबरदस्त चर्चा है. वहीं एक ओर उम्मीदवार अभिताभ बच्चन की हार की खबर ने कई लोगों को मायूस कर दिया. धर्मापुर विकास खंड के वार्ड संख्या 71 से अमिताभ बच्चन जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे थे. जहां अमिताभ बच्चन को हार का सामना करना पड़ा.  

यहां से बृजेश यादव उर्फ जनता यादव ने अमिताभ बच्चन को करारी शिकस्त दी है. यहां 1133 वोटों के अंतर से जनता यादव ने बसपा समर्थित अमिताभ बच्चन को चुनाव में मात दी. जनता यादव को 3131 वोट मिले वहीं अमिताभ बच्चन को 1998 वोट पाकर हार का सामना करना पड़ा. जनता यादव के जीतने के बाद अमिताभ बच्चन के चेहरे पर हार की मायूसी थी. धर्मापुर ब्लॉक के वार्ड संख्या 71 पर चुनावी निष्कर्ष की चर्चा चारों ओर है. लेकिन यहां जनता यादव की जीत से ज्यादा अमिताभ बच्चन के हार के चर्चे हैं.
 

चुनाव ड्यूटी के कारण 500 से अधिक टीचरों की जान गई

बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना के कहर के बीच हुए इस चुनाव के दौरान कई लोगों ने जान गंवाई है. उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ ने तो एक आंकड़ा जारी किया था, जिसमें दावा किया गया था कि चुनाव ड्यूटी के कारण 500 से अधिक टीचरों की जान गई. हालांकि, केवल टीचरों की नहीं, कई प्रत्याशियों की भी मौत हुई है.

हालात यह है कि पंचायत चुनाव के दौरान कई ऐसे प्रत्याशियों की मौत भी हुई है, जिनके नाम का ऐलान विजयी प्रत्याशी के रूप में किया जा रहे हैं. उत्तर प्रदेश में कई लोग मरने के बाद प्रधान बन रहे हैं. कल से आ रहे पंचायत चुनाव के नतीजों में कई प्रत्याशी ऐसे हैं, जिनकी मौत हो गयी है, लेकिन चुनावों में उनकी जीत हुई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें