scorecardresearch
 

उत्तर प्रदेश में 'काल' बनकर आई आंधी-तूफान और बारिश, 19 लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश में सोमवार को आई तेज आंधी-तूफान के साथ भारी बारिश हुई. यह बारिश कई लोगों के लिए काल साबित हुई. राज्य के कई इलाकों में तेज आंधी-तूफान और आकाशीय बिजली ने 19 से ज्यादा लोगों की जान ले ली. आइए जानते हैं कि इस आंधी-तूफान की वजह से किस जिले में कितनी तबाही मची.

X
तेज आंधी-तूफान से 19 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई. तेज आंधी-तूफान से 19 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी में आंधी-तूफान से तबाही
  • सोमवार को जमकर हुई बारिश
  • 19 से ज्यादा लोगों की हुई मौत

उत्तर प्रदेश में सोमवार को आई तेज आंधी-तूफान और बारिश तबाही का सबब लेकर आई. इसकी वजह से राज्य के कई जिलों में तबाही का मंजर देखने को मिला. सैकड़ों पेड़ गिर गए. कई इलाकों में बिजली भी प्रभावित हुई.

एक तरफ इस तेज आंधी से तापमान में गिरावट हुई और लोगों ने राहत की सांस ली. तो वहीं दूसरी तरफ, उत्तर प्रदेश के कई जिलों में यह आंधी मौत का सबब बन कर भी आई. आइए जानते हैं कि इस आंधी-तूफान की वजह से किस जिले में कितनी तबाही मची.

मिर्जापुर में दो लोगों की मौत
मिर्जापुर में तेज आंधी तूफान की चपेट में आ कर अलग-अलग थाना क्षेत्रों में दो लोगों की दर्दनाक मौत हो गई. शहर के कटरा कोतवाली क्षेत्र के चंद्रदीपा इलाके में 14 साल की पुष्पा की तेज तूफान आने के कारण निर्माणाधीन दीवार गिरने से दबकर कर मौत हो गई. वहीं, दूसरी घटना जिगना थाना क्षेत्र के गोनौरा की है, जहां तेज आंधी में आम का पेड़ गिरने से उसके नीचे दबकर दोस्ती देवी नाम की महिला की मौत हो गई.

फिरोजाबाद में मलबे में दबकर एक युवक की मौत
फिरोजाबाद में सोमवार को आई तेज आंधी और बरसात के कारण गिरी दीवार में दबकर 14 वर्ष के किशोर की मौत हो गई. आंधी में थाना पचोखरा इलाके के गांव छितराई के एक घर की दीवार गिर गई. दीवार के सहारे ही बैठा 14 वर्षीय यश चौधरी पुत्र योगेंद्र चौधरी दब गया. यश के सिर में चोट लगने से उसे गंभीर हालात में फिरोजाबाद मेडिकल कॉलेज के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया गया. लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

वाराणसी में तीन लोगों की गई जान
तेज आंधी के चलते वाराणई के सोनिया इलाके में दीवार गिरने से एक युवती की मौत हो गई, जबकि एक वृद्ध महिला समेत चार घायल हो गए. वहीं, चौकाघाट ताड़ीखाना के पास बन रही बिल्डिंग की पांचवीं मंजिल की दीवार गिरने से बगल में बैठे 52 वर्षीय रतन कुमार चौरसिया और डुबकिया रतनपुर निवासी 48 वर्षीय शौकत अली की मौत हो गई.

बांदा में आकाशीय बिजली गिरने से किसान की मौत
बांदा में आकाशीय बिजली गिरने से एक किसान की मौत हो गई. घटना शहर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत मवई बुजुर्ग गांव की है. 45 वर्षीय नंदकिशोर दोपहर के बाद खेत से लौट रहे थे तो वह आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए. जब तक वह कुछ समझ पाते उससे पहले ही बिजली से उनका शरीर बुरी तरह झुलस गया. नजदीक के खेतों में काम कर रहे किसानों ने परिवार को घटना की सूचना दी. घटना के बाद परिवार में मातम पसर गया. प्रशासन ने पीड़ित परिवार को दैवीय आपदा के तहत 4 लाख रुपये दिलवाने के निर्देश दिए हैं.

उन्नाव में बुजुर्ग की मौत
उन्नाव सदर तहसील के गदर खेड़ा गांव के मजरा सरैया के रहने वाले 57 वर्षीय किसान रामबालक अपने खेत पर झोपड़ी बनाकर रह रहा था. तेज आई आंधी में उसके ऊपर छप्पर के साथ-साथ ईटों से बना पिलर गिर गया. जिससे किसान उसी मलबे में दब गया. शोर सुनकर ग्रामीणों ने उसे वहां से निकाला और जिला अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

शाहजहांपुर में आकाशीय बिजली से 1 की मौत
शाहजहांपुर में सोमवार को आई तेज आंधी बारिश में आकाशीय बिजली गिरने से सिधौली कस्बे के सैजना गांव के जसवीर सिंह यादव की मौत हो गई. वहीं, उनका साथी होशियार सिंह आंधी बारिश से बचने के लिए आम के पेड़ के नीचे खड़े हो गया. वो भी गंभीर रूप से झुलस गया. दोनों लोग गन्ने के खेत में गुड़ाई कर रहे थे.

इटावा में आम बीनने गए किशोर की आकाशीय बिजली से मौत
इटावा के थाना ऊसराहार क्षेत्र के गांव बछरोई कछपुरा गांव में आंधी आने पर आम के पेड़ों से आम बीनने गए संतराम शाक्य के 15 वर्षीय पुत्र दीपक उर्फ दीनू पर आकाशीय बिजली गिर गई. जिससे किशोर की मौके पर ही मौत हो गई. बरसात रुकने के बाद ग्रामीणों को आम के पेड़ों के पास मृत किशोर पड़ा मिला. किशोर को उठाकर कस्बा ऊसराहार स्थित एक निजी डॉक्टर के यहां उपचार के लिए ले गए. जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया.

सीतापुर में दो बच्चियों की गई जान
सीतापुर के मिश्रिख थाना क्षेत्र आटवामऊ गांव में आई तेज आंधी और बारिश से कच्ची दीवार गिर गई. जिसकी चपेट में आने से दो मासूम बच्चियों की मौके पर मौत हो गई. घटना में बच्चियों की मां और तीसरी बेटी भी बुरी तरह घायल हो गई. जिन्हें जिला अस्पताल सीतापुर में इलाज के लिए भेजा गया.

हरदोई में एक की मौत, पांच घायल
हरदोई में आंधी पानी के कारण दीवार गिरने और पेड़ गिरने की कई जगह घटनाएं घटीं. जिनमें एक की मौत हुई है और पांच लोग घायल हुए हैं. अरवल थाना क्षेत्र के फदुल्लापुर गांव में तेज आंधी-बारिश के दौरान खेत में बने कच्चे मकान में बैठे युवक के ऊपर दीवार गिर गई. दीवार के मलबे में दबकर युवक गंभीर रूप से घायल हो गया. खेत पर मौजूद ग्रामीणों ने उसे बाहर निकाला और परिजनों को सूचना दी. परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई. इसके अलावा, शहर कोतवाली इलाके के मोहल्ला पितांबर गंज निवासी गीता कश्यप उनकी बेटी नेहा और बेटा रूद्र घर में बैठे थे. इस दौरान तेज आंधी और बारिश शुरू होने से घर की एक दीवार ढह गई. जिसमें दीवार के मलबे में तीनों दब गए पड़ोसियों की मदद से हटाकर तीनों को बाहर निकाला और जिला अस्पताल में भर्ती कराया. इसके अलावा बेहटागोकुल थाना क्षेत्र धियरई गांव में चितकोरा अपने भतीजे सौरभ के साथ छप्पर के नीचे बैठी थी. तेज आंधी आने से दीवार ढह गई दीवार के मलबे में दबकर दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए. परिजनों ने दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया.

अंबेडकरनगर में महिला की गई जान
आंधी तूफान में कच्ची दीवार गिरने से अम्बेडकर नगर में एक महिला की मौत हो गई. कोतवाली अकबरपुर के गोहन्ना गांव में प्रभुदेई अपने घर के पास बनी कच्ची दीवार के पास बैठी थी. इसी दौरान आई आंधी तूफान में कच्ची दीवार भर भरा कर ढह गई. दीवार के नीचे दबकर प्रभुदेई गंभीर रूप से घायल हो गईं. परिवारजनों ने उन्हें तत्काल जिला अस्पताल पहुंचाया. जहां इलाज के दौरान प्रभुदेई की मौत हो गई.

बाराबंकी में दीवार ढहने से एक अधेड़ की मौत
बाराबंकी के रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र के डल्ला का पुरवा मजरे जमोली गांव में दीवार गिरने से उसके मलबे में दबकर गांव के 55 वर्षीय गुट्टू यादव की मौत हो गई. पुलिस के अनुसार, गुट्टू घर के बाहर भूसा रखने के लिए बनाए गए छप्पर को ठीक कर रहा था. इसी दौरान ईंट की पक्की दीवार उसी के ऊपर गिर पड़ी.

लखीमपुर में आकाशीय बिजली गिरने से चार की मौत
जिले में आई आंधी में पसगवां थाना क्षेत्र के चंदीला गांव में आम बीनने गए दो बच्चों की आकाशीय बिजली गिरने से मौके पर ही मौत हो गई. गांव के रहने वाले इश्तियाक की 9 वर्षीय बेटी रकिबा और सुहैल का 14 वर्षीय बेटा जैद आम बीनने गए थे. तभी आकाशीय बिजली गिरने से दोनों की बाग में ही मौके पर मौत हो गई. वहीं, 2 दिन पहले जिले में आई आंधी के चलते भीरा थाना क्षेत्र के बोझवा गांव में पिता-पुत्र की आकाशीय बिजली गिरने से मौके पर ही मौत हो गई थी. बोझवा गांव के रहने वाले 42 वर्षीय छोटेलाल अपने 16 वर्षीय बेटे के साथ सो रहे थेय तभी आई तेज आंधी के साथ अचानक आकाशीय बिजली गिरने से दोनों की मौके पर ही मौत हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें