scorecardresearch
 

नोएडा: श्रीकांत त्यागी की जमानत पर सुनवाई, हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

कोर्ट में सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों के वकीलों ने अपनी-अपनी दलीलें रखीं. सुनवाई के बाद जस्टिस मयंक कुमार जैन की सिंगल बेंच ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. अब जल्द ही कोर्ट त्यागी की जमानत पर अपना फैसला सुनाएगी. 

X
महिला से गाली-गलौच करने वाला श्रीकांत त्यागी महिला से गाली-गलौच करने वाला श्रीकांत त्यागी

नोएडा की पॉश सोसाइटी में विवाद के बाद गिरफ्तार हुए कथित नेता श्रीकांत त्यागी के मामले को लेकर गुरुवार को हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. त्यागी 9 अगस्त से ही जेल में बंद है. कोर्ट में सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों के वकीलों ने अपनी-अपनी दलीलें रखीं. सुनवाई के बाद जस्टिस मयंक कुमार जैन की सिंगल बेंच ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. अब जल्द ही कोर्ट त्यागी की जमानत पर अपना फैसला सुनाएगी. 

बता दें कि श्रीकांत त्यागी का 5 अगस्त को महिला से गाली-गलौज करने का वीडियो वायरल हुआ था. मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस ने केस दर्ज किया था. यह मामला तब ज्यादा सुर्खियों में आया जब खुद गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ महेश शर्मा इस मामले को लेकर सोसायटी पहुंचे और लखनऊ फोन करके पुलिस कमिश्नर की शिकायत कर डाली. वीडियो वायरल होने के बाद से ही आरोपी फरार हो गया था, जिसके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई कर 25 हजार का इनाम भी घोषित किया था. पुलिस की 12 टीमें उसकी तलाश में जुटी हुई थीं. आरोपी को बाद में मेरठ से गिरफ्तार किया गया था.

त्यागी के साथियों को पहले ही मिल गई थी जमानत

श्रीकांत त्यागी के पक्ष में सोसाइटी में घुसे 6 युवकों समेत कुल 8 लोगों को जिला कोर्ट ने पहले ही जमानत दे दी थी. इस मामले में कुल 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने श्रीकांत त्यागी के अलावा उसके साथी राहुल पर भी गैंगस्टर की कार्रवाई की थी. 

त्यागी समाज ने पक्ष में की थी पंचायत

श्रीकांत के पक्ष में त्यागी समाज ने नोएडा के गेझा गांव में महापंचायत का आयोजन किया था. इस पंचायत में हजारों की संख्या में लोग जुटे थे. जिन्होंने सांसद महेश शर्मा को घटना को राजनीतिक रूप देने का आरोप लगाया था. इस दौरान त्यागी समाज ने पुलिस प्रशासन को भी मामले में सही तरीके से कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें