scorecardresearch
 

UP: जैसे मस्जिद के पास पहुंची परशुराम शोभायात्रा, छत से होने लगी फूलों की बारिश

उत्तर प्रदेश के इटावा में परशुराम जयंती पर शोभायात्रा निकाली गई. शोभायात्रा जैसे ही शाही मस्जिद के नीचे पहुंची तो छत से फूलों की बारिश शुरू हो गई. सबने एक-दूसरे को माला पहनाकर स्वागत किया.

X
परशुराम जयंती पर निकली शोभायात्रा परशुराम जयंती पर निकली शोभायात्रा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इटावा में निकाली गई परशुराम शोभायात्रा
  • शोभायात्रा पर मुस्लिमों ने की फूलों की बारिश

आज ईद है. साथ ही साथ परशुराम जयंती और अक्षय तृतीया का भी पर्व मनाया जा रहा है. यूपी के इटावा शहर में परशुराम जयंती के उपलक्ष्य में एक बड़ी शोभायात्रा का आयोजन किया गया. हजारों लोगों की भीड़, बैंड बाजा और झांकियों के साथ यह शोभायात्रा निकाली गई. नुमाइश पंडाल में एकत्रित हुए लोगों के साथ यात्रा का आगाज हुआ.

शहर के मुख्य मार्गो से होती हुई अपने गंतव्य तक पहुंची. खास बात यह देखने को मिली कि नौरंगाबाद चौराहे से पहले शाही मस्जिद पर मुस्लिम समाज के लोगों ने इस शोभायात्रा का जबरदस्त तरीके से स्वागत किया. शोभायात्रा में शामिल लोगों को माला पहनाकर, पानी की बोतल, जूस और मस्जिद की छत से फूलों की बरसात की गई.

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने भगवान परशुराम की झांकी को भी माला पहनाकर, फूलों से सम्मान स्वागत किया. स्वागत करने वालों में शाही मस्जिद के नीचे खड़े नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन फुरकान अहमद ने कहा कि भगवान परशुराम ने दुष्टों का नाश करने के लिए यह रूप धारण किया था.

उन्होंने कहा कि ईद का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है तो वही परशुराम जयंती भी हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है, आज हम लोगों ने इसी सौहार्दपूर्ण तरीके से स्वागत किया. हम लोग इसी प्रकार से शोभायात्रा का स्वागत करते रहेंगे.

नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन फुरकान अहमद ने कहा कि हम लोग ऐसे ही आपसी सामंजस्य के साथ एक दूसरे के त्योहारों पर सौहार्दपूर्ण तरीके से मेल मिलाप करें तो निश्चित तौर पर भारत विश्व गुरु बनेगा. हमारी तहजीब कहती है कि सभी लोग हमारा स्वागत करते हैं हम भी सभी का स्वागत करें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें