scorecardresearch
 

सपा ने आजमगढ़ को बना दिया था आतंकवाद का अड्डा, अब आर्यमगढ़ बनाने का मौका: CM योगी

अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सहित भाजपा के सभी नेता झूठ के साथ अपनी बात शुरू और खत्म करते हैं. सभी जानते हैं कि सपा ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे बनवाया और आजमगढ़ को लखनऊ और नई दिल्ली से जोड़ने के लिए पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की नींव रखी थी.

X
फाइल फोटो फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • योगी आदित्यनाथ ने SP-BSP को बताया राहु-केतु
  • आजमगढ़ में टिकट पर योगी ने SP पर खड़े किए सवाल
  • अखिलेश यादव ने भी बीजेपी पर किया पलटवार

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को राहु और केतु बताया. उन्होंने जनता से इन दोनों ही पार्टियों से दूरी बनाने की अपील की. इस दौरान सीएम योगी ने उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी दिनेश यादव निरहुआ को वोट देने की अपील करते हुए कहा कि आजमगढ़ को आतंकवाद का गढ़ न बनने दें. इस दौरान सीएम ने पूर्वांचल एक्सप्रेस बनाने का भी दावा किया. इस पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव  ने योगी आदित्यनाथ समेत बीजेपी के सभी नेताओं को झूठा बताया. 


अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सहित भाजपा के सभी नेता झूठ के साथ अपनी बात शुरू और खत्म करते हैं. सभी जानते हैं कि सपा ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे बनवाया और आजमगढ़ को लखनऊ और नई दिल्ली से जोड़ने के लिए पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की नींव रखी थी. उन्होंने दावा किया कि एक्सप्रेस-वे के लिए भूमि अधिग्रहण सपा सरकार में किया गया था, लेकिन भाजपा ने काम रोक दिया और नाम बदल दिया. उन्होंने कहा कि समाजवादियों ने हमेशा आजमगढ़ और पूरे पूर्वांचल क्षेत्र के विकास के लिए काम किया. 

बीजेपी ने आजमगढ़ को किया नजरअंदाज

उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमेशा आजमगढ़ को नजरअंदाज किया और इसे बदनाम किया. भाजपा अभी भी लोगों को धोखा दे रही है. अखिलेश ने कहा कि आजमगढ़ के लोगों ने हमेशा बीजेपी की सांप्रदायिकता और विकास विरोधी नजरिए को खारिज किया है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की 'जनविरोधी' और 'गलत नीतियों' की वजह से पूरा राज्य और देश पीड़ित है. किसान, युवा, व्यापारी सभी भाजपा सरकार से नाराज हैं. 

SP-BSP को बताया राहु-केतु

रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ के चक्रपानपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि सपा हो या बसपा वे यूपी के विकास के लिए राहु और केतु हैं. आप उनसे जितनी दूरी बनाए रखेंगे, विकास आपके करीब आता जाएगा. हालांकि सीएम ने ये नहीं बताया कि इनमें कौन-सी पार्टी राहु और कौन-सी पार्टी केतु है. 

आजमगढ़ को आतंक का अड्डा बनाने का आरोप

आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार ने आजमगढ़ को आतंकवाद का अड्डा बना दिया था. बसपा भी इससे अलग नहीं हो सकी, लेकिन यह भाजपा की डबल इंजन सरकार थी, जिसने आजमगढ़ को विकास से जोड़ा. सीएम ने जनता से अपील करते हुए कहा कि आजमगढ़ को आतंकवाद का अड्डा न बनने दें. मैं यहां आजमगढ़ को आर्यमगढ़ बनाने और इसे विकास से जोड़ने आया हूं. उन्होंने रोजगार को लेकर भी सपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 2017 से पहले जब भी नौकरियों की घोषणा की जाती थी, तो पूरा कबीला 'वसूली' के लिए सामने आता था. भगवान सभी को सैफई कबीले से बचाएं. सीएम ने बताया कि भाजपा ने 5 लाख लोगों को सरकारी नौकरी दी हैं. वहीं बसपा पर निशाना साधते हुए सीएम ने कहा कि बहनजी के हाथी का पेट इतना बड़ा होता है कि वह कभी नहीं भरता. वह गरीबों का राशन और युवाओं के लिए रोजगार भी खाता था. 

अग्निपथ योजना की तारीफ

सीएम योगी ने इस दौरान केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना की भी तारीफ की. उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि पूरी दुनिया योजना की तारीफ कर रही है, लेकिन विपक्षी दल युवाओं के जीवन के साथ खेलकर उन्हें गुमराह कर रहे हैं. हम यूपी पुलिस और अन्य सेवाओं में अग्निवीरों को प्राथमिकता देंगे.  

टिकट को लेकर योगी ने खड़े किए सवाल

आजमगढ़ से टिकट को लेकर भी योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी पर सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि मुझे लगा था कि सपा रामदर्शन यादव जैसे कार्यकर्ता को टिकट देगी, लेकिन एक बार फिर सैफई परिवार को टिकट दिया गया. उन्होंने बीएसपी प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली के बारे में कहा कि उन्हें भी सपा ने धोखा दिया. धोखा देना समाजवादी पार्टी के स्वभाव में है. इस दौरान योगी ने कहा कि हम राष्ट्रवाद की बात करते हैं तो वंशवाद पर रुक जाते हैं. 

23 जून को होना है उपचुनाव

बता दें कि अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से संसद की सदस्यता का इस्तीफा दे दिया था. वो यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में मैनपुरी की करहल सीट से विधायक चुने गए हैं. अब आजमगढ़ सीट पर 23 जून को उपचुनाव होगा. यहां सपा ने धर्मेंद्र यादव को टिकट दिया है तो वहीं बीजेपी दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ और बसपा ने शाह आलम को अपना प्रत्याशी बनाया है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
; ;