scorecardresearch
 

योगी ने आगरा के मुगल म्यूजियम का नाम बदला, अब शिवाजी के नाम से जाना जाएगा

आगरा के मुगल म्यूजियम का नाम अब छत्रपति शिवाजी महाराज म्यूजियम होगा. आगरा मंडल की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला किया.

सीएम योगी आदित्यनाथ सीएम योगी आदित्यनाथ
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सीएम योगी ने सोमवार को लिया फैसला
  • आगरा मंडल की समीक्षा के दौरान निर्णय
  • प्रदेश में नाम बदलने का सिलसिला जारी

यूपी में आगरा के मुगल म्यूजियम का नाम बदलने की तैयारी है. आगरा के मुगल म्यूजियम का नाम अब छत्रपति शिवाजी महाराज म्यूजियम होगा. आगरा मंडल की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला किया.

मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट में इस फैसले की जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट में लिखा, आगरा में निर्माणाधीन म्यूजियम को छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा. आपके नए उत्तर प्रदेश में गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों का कोई स्थान नहीं. हम सबके नायक शिवाजी महाराज हैं. जय हिन्द, जय भारत.

इससे पहले यूपी सरकार ने फैसला लिया था कि राज्य के 11 शहीदों के नाम पर उनके जिले की एक-एक सड़क का नामकरण किया जाएगा. इस बारे में लोक निर्माण विभाग की ओर से अधिसूचना भी जारी कर दी गई है. प्रदेश के लोक निर्माण विभाग की ओर से जय हिंद वीर पथ योजना का ऐलान किया गया. उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इन मार्गों पर शहीदों के सम्मान में बड़े और आकर्षक बोर्ड लगाने के निर्देश जारी किए थे.

अगस्त महीने में योगी सरकार ने फैसला किया था कि शामली में वीर चक्र प्राप्त शहीद स्क्वाड्रन लीडर मदनपाल सिंह चौहान के नाम पर जसाला-कांधला मार्ग का नामकरण होगा. इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंजूरी भी प्रदान कर दी. कई साल से इस क्षेत्र के लोग यह मांग उठा रहे थे. मांग पूरी होने के बाद शहीद के परिजनों ने यूपी सरकार का आभार जताया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें