scorecardresearch
 

UP: BJP ने लगाया पोस्टर, योगी को शेर तो अखिलेश को गधे पर बैठे दिखाया

कांग्रेस और बीजेपी के बीच पोस्टरवार थमने का नाम नहीं ले रहा है. बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा ने राहुल गांधी के सिंघम अवतार वाले पोस्टर के जवाब में बीजेपी के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ का पोस्टर लगाया है. पोस्टर में शेर पर बैठे बीजेपी सांसद को नायक के रूप में पेश किया गया है, जबकि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित अन्य पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को गधे पर सवार दिखाया गया है.

गोरखपुर में लगाया गया आदित्यनाथ का विवादित पोस्टर गोरखपुर में लगाया गया आदित्यनाथ का विवादित पोस्टर

कांग्रेस और बीजेपी के बीच पोस्टरवार थमने का नाम नहीं ले रहा है. बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा ने राहुल गांधी के सिंघम अवतार वाले पोस्टर के जवाब में बीजेपी के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ का पोस्टर लगाया है. पोस्टर में शेर पर बैठे बीजेपी सांसद को नायक के रूप में पेश किया गया है, जबकि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित अन्य पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को गधे पर सवार दिखाया गया है.

पोस्टर पर लिखा-अबकी बार योगी सरकार
रविवार को बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने बैंक रोड से शास्त्री चौक तक जुलूस निकाला और जगह-जगह इन पोस्टरों को चस्पा कर दिया. इस पोस्टर लिखे स्लोगन में अन्य पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को यह चेताने का प्रयास किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री आदित्यनाथ होंगे. पोस्टर के ऊपर 'संकल्प 2017' और 'अबकी बार योगी सरकार ' लिखा हुआ है.

अखिलेश-माया पर निशाना
पोस्टर के बायीं ओर ऊपर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य की फोटो है. उसके नीचे उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री बसपा सुप्रीमो मायावती को गधे पर सवार दिखाया गया है. ताज घोटाले का स्लोगन देकर उन्हें भ्रष्ट बताने की कोशिश की गई है. पोस्टर में प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को भी नहीं छोड़ा गया है. गधे पर सवार अखिलेश यादव को 'मुल्ला भ्रष्टाचारी' बताया गया है. वहीं, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को देश को बांटने वाला और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी को मुसलमानों को गुमराह करने वाला बताया गया है.

योगी को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग
बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के पूर्व प्रदेश कार्यसमिति सदस्य इरफान अहमद ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी का बोलबाला है. सांसद महंत योगी आदित्यनाथ बीजेपी का ऐसा चेहरा हैं, जो उत्तर प्रदेश को विकास के पथ पर ले जाने में सक्षम हैं. यही वजह है कि महंत योगी आदित्यनाथ को 2017 के चुनाव प्रदेश का मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित करने के लिए जूलूस निकाला गया है. इरफान ने कहा कि वह इस पोस्टर के माध्यम से यह बताना चाहते हैं कि सांसद महंत आदित्यनाथ अगर मुख्यमंत्री बनेंगे, तो देशद्रोहियों और भ्रष्टाचारियों को यूपी से बाहर भागने को मजबूर होना पड़ेगा.

इलाहाबाद और वाराणसी में लगे थे विवादित पोस्टर
17 अप्रैल 2016 को इलाहाबाद में एक पोस्टर में यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद को महाभारत के अर्जुन के तौर पर पेश किया गया था. इसमें वह रथ पर सवार थे और अर्जुन की तरह योद्धा की भूमिका में दिख रहे थे. इसके एक दिन पहले 16 अप्रैल को केशव प्रसाद मौर्या पहली बार वाराणसी पहुंचे थे. तब भी भगवान कृष्ण के रूप में उनका एक पोस्टर शेयर हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×