scorecardresearch
 

राकेश टिकैत ने किया महंगाई के खिलाफ आंदोलन का ऐलान, किसानों से कहा- तैयार रहिए

यूपी के बाराबंकी में भाकियू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि महंगाई के खिलाफ सरकार से बातचीत चल रही है. अगर बात नहीं बनी तो आंदोलन करेंगे. उन्होंने कहा कि अगर विपक्ष होता तो ये हालात ही नहीं होते.

X
भाकियू नेता राकेश टिकैत रविवार को बाराबंकी पहुंचे थे. (File Photo) भाकियू नेता राकेश टिकैत रविवार को बाराबंकी पहुंचे थे. (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भाकियू नेता ने बाराबंकी में दिया बयान
  • मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में पहुंचे थे टिकैत

किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने रविवार को यूपी के बारांबकी में बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि महंगाई के खिलाफ जल्द ही बड़ा आंदोलन होने जा रहा है. उन्होंने किसानों से खास अपील की और कहा कि इस आंदोलन में शामिल होने के लिए आप सभी लोग तैयार रहिए. राकेश टिकैत यहां एक मूर्ति अनावरण के कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे.

राकेश टिकैत ने कहा कि देश में अब महंगाई, बेरोजगारी, किसानों और नौजवानों की समस्या को लेकर बड़ा आंदोलन होगा. इसके लिए आप सब तैयार रहें. समय और जगह आपको बताई जाएगी. टिकैत यहां केंद्र और प्रदेश सरकार से काफी नाराज दिखे. उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार को किसानों को गेहूं पर ₹500 सब्सिडी देनी चाहिए और गेहूं को बाहर भेजना चाहिए, लेकिन सरकार किसानों की बजाय बड़े व्यापारियों को फायदा पहुंचा रही है. अडाणी को फायदा पहुंचा रही है.

मुआवजा दिए बिना जमीन अधिग्रहण करना गलत

टिकैत ने कहा कि कोयला खरीद का रेट 3 गुना कर दिया गया है. यह सब बड़े व्यापारियों को फायदा पहुंचाने के लिए किया जा रहा है. राकेश टिकैत ने आगे कहा कि लखनऊ में एयरपोर्ट के पास किसानों को जमीन का मुआवजा दिए बिना अधिग्रहण करना गलत है. अगर सरकार नहीं मानी तो इस पर भी बड़ा आंदोलन होगा. 

विपक्ष ना होने की वजह से ये हालात बने

राकेश टिकैत ने कहा कि विपक्ष ना होने की वजह से ऐसा हो रहा है. इसकी वजह से सरकार तानाशाही पूर्ण रवैया अपना कर लाठी के दम पर देश को चला रही है. उन्होंने कहा कि एमएसपी के लिए सरकार ने हमारी कमेटी के कुछ नाम मांगे हैं, उन नामों को जल्द दे दिया जाएगा. उसके बाद क्या रिजल्ट होता है, यह बाद में पता चलेगा. 

सुप्रीम कोर्ट किसान हित में बात करती है

इसके अलावा राकेश टिकैत ने हाइकोर्ट में किसानों के दाखिल मुकदमों पर भी सवाल उठाए और सुप्रीम कोर्ट की तारीफ की. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट किसानों के हित में बात करती है. राकेश टिकैत ने महंगाई को लेकर चिंता जताई और कहा कि जल्दी एक बड़ा आंदोलन होगा. यह देश आंदोलन की तरफ जा रहा है.

किसान नेता की पुण्यतिथि में शामिल होने आए थे टिकैत

राकेश टिकैत ने लखीमपुर कांड में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र उर्फ टेनी को किसानों का दुश्मन बताया. उन्होंने टेनी को धारा 120 B का मुजरिम भी कहा. बताते चलें कि राकेश टिकैत यहां भारतीय किसान यूनियन के नेता मुकेश वर्मा की तीसरी पुण्यतिथि में शामिल होने पहुंचे थे. उन्होंने मुकेश वर्मा की मूर्ति का अनावरण किया. समाधि पर फूल चढ़ाए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें