scorecardresearch
 

यूपी चुनाव में अखिलेश की 'साइकिल' पर सवारी करेंगी कृष्णा पटेल, अपना दल ने किया सपा से गठबंधन

अपना दल की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया है. हालांकि अभी सीटों पर बात होना बाकी है. कृष्णा पटेल की बेटियां भी राजनीति में ​सक्रिय हैं. कई बार राजनीतिक वर्चस्व के चलते पारिवारिक कलह भी सामने आ चुकी है.

अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल (फाइल फोटो) अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णा पटेल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • प्रेस कान्फ्रेंस कर कृष्णा पटेल ने दी जानकारी
  • कहा: समान विचारधारा वाले लोगों से हुआ है गठबंधन

यूपी सियासी रण फतह करने के लिए समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव हर जतन कर रहे हैं. ओम प्रकाश राजभर और जयंत चौधरी के बाद अखिलेश ने अपनी रणनीति बहुत हद तक साफ कर दी है और उनकी नजर अपने इलाकों में खास जनाधार वाले छोटे दलों पर है. इस कड़ी में समाजवादी पार्टी ने अपना दल से गठबंधन किया है.

इस बात की घोषणा दल की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने बुधवार एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में की. उन्होंने कहा कि हमारा समाजवादी पार्टी से गठबंधन हो चुका है. समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव से हमारी बात हुई है. समान विचारधारा के लोगों के साथ अब अपना दल का यह गठबंधन हुआ है.

अपना दल की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने कहा कि हम इस गठबंधन के बाद विभिन्न प्रमुख मुद्दों पर काम करेंगे. कृष्णा पटेल ने जरूरी मुद्दों पर काम करने की बात कही. कहा जा रहा है कि इस गठबंधन को लेकर काफी समय से बात की जा रही थी. प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ अपना दल के गठबंधन होने की बात कही जा रही थी. प्रदेश में कुर्मी समाज के वोटों पर इस गठबंधन के बाद दावा हो रहा है. हालांकि सीटों को लेकर कृष्णा पटेल ने तस्वीर साफ नहीं की. कहा जा रहा है कि जल्द ही दोनों दल इसको लेकर कोई औपचारिक ऐलान करेंगे.

सोनेलाल पटेल की विरासत पर किसका हक?
वहीं कृष्णा पटेल ने परिवारवाद पर कहा, 'मेरे लिए सारी बेटियां एक हैं. मुझे कोई खतरा नहीं है. राजनीतिक रूप से खतरा तो रहता है. मेरी बेटी को बरगलाया गया है. सभी बेटियों को एक स्कूल में एक छत के नीचे पढ़ाया है. मेरे बच्चे मेरे खिलाफ नहीं हैं. बेटी नासमझ है.' बता दें कि कृष्णा पटेल की दो बेटियां अनुप्रिया पटेल और पल्लवी पटेल हैं. दोनों राजनीति में सक्रिय हैं. अनुप्रिया पटेल को मोदी सरकार में मंत्री पद भी मिला हुआ है.

अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल की दो बेटियां अनुप्रिया पटेल और पल्लवी पटेल में सियासी वर्चस्व के लिए घमासान पहले से ही चला आ रहा है. सोनलाल पटेल की तीसरी बेटी अमन पटेल भी राजनीति में आ चुकी हैं. अमन पटेल ने कुछ समय पहले मां कृष्णा पटेल की सुरक्षा के लिए भी डीजीपी से गुहार लगाई थी. इसके साथ ही बड़ी बहन पल्लवी पटेल पर गंभीर आरोप भी लगाए थे.

अमन पटेल ने अपनी बहन पर लगाए थे ये गंभीर आरोप
अमन पटेल ने पिछले महीने डीजीपी को एक पत्र लिखा था. इसमें कहा था कि 2009 में पिता के निधन के बाद मां कृष्णा पटेल और सभी बहनों की सहमति पर बड़ी बहन पल्लवी ने कानपुर स्थित पिता के समस्त कारोबार की बागडोर संभाली. पिता की संपत्ति की बिना किसी को जानकारी दिए हुए 2015 में ही बड़ी बहन ने वसीयत अपने नाम करा ली. उन्होंने दावा किया कि संपत्ति वसीयत के कुछ मूल दस्तावेज वसीयत पंजीकरण कार्यालय से मिलने के बाद उन्हें पता चला था.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें