scorecardresearch
 

वाराणसी: सोनू सिंह के एनकाउंटर के बाद लगे 'बुलडोजर बाबा' जिंदाबाद के नारे

2 लाख के इनामी बदमाश मनीष सिंह उर्फ सोनू को यूपी एसटीएफ ने वाराणसी के लोहता इलाके में मुठभेड़ में मार गिराया. एनडी तिवारी हत्याकांड समेत कपसेठी में 10 लाख की रंगदारी समेत कई अन्य मामलों में मनीष सिंह सोनू वांछित था.

X
सोनू सिंह के एनकाउंटर के बाद लोगों ने एसटीएफ की टीम को किया सम्मानित
सोनू सिंह के एनकाउंटर के बाद लोगों ने एसटीएफ की टीम को किया सम्मानित
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोनू सिंह के एनकाउंटर से खुश हुए लोग
  • वाराणसी में बुलडोजर बाबा जिंदाबाद के लगे नारे

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने चुनाव जीतकर भले अभी दूसरी बार सीएम पद की शपथ ना ली हो लेकिन बाहुबलियों और बदमाशों के खिलाफ उनका एक्शन शुरू हो गया है.

वाराणसी के लोहता थाना क्षेत्र के रिंगरोड के पास यूपी एसटीएफ ने दो लाख रुपये के इनामी बदमाश मनीष सिंह उर्फ सोनू सिंह को एक एनकाउंटर में ढेर कर दिया जिसके बाद स्थानीय लोगों ने फूल-माला पहनाकर उनका स्वागत किया.

लोगों के लिए सिरदर्द बन चुका सोनू सिंह एसटीएफ के साथ हुई मुठभेड़ में  मारा गया. सोनू सिंह के आतंक से पीड़ित परिवारों ने एनकाउंटर के बाद वहां पहुंचकर एसटीएफ की वाराणसी टीम को सम्मान में फूलों की माला पहनाई और बुलडोजर बाबा जिंदाबाद के भी नारे लगाए.

बता दें क मारे गए बदमाश मनीष सिंह के ऊपर वाराणसी, मिर्जापुर और आजमगढ़ सहित यूपी के कई जिलों में हत्या और लूट जैसे संगीन वारदातों के तीन दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज थे. एनकाउंटर टीम को लीड करने वाले STF वाराणसी के एसपी विनोद सिंह ने बताया कि आज सूचना मिली थी कि हार्डकोर अपराधी और कई वारदातों का आरोपी सोनू सिंह लोहता के बनकट रेलवे क्रॉसिंग के पास आने वाले हैं.

यहां देखिए वीडियो       

मुखबिर की सूचना सही निकली. मनीष उर्फ सोनू अपने साथी के साथ सर्विस लेन से बाइक पर सवार होकर आ रहा था जिसे एसटीएफ की टीम ने घेर लिया. खुद को घिरा हुआ देखकर सोनू सिंह गोलियां चलाने लगा जिसके बाद एसटीएफ ने भी जवाबी फायरिंग की.  

दोनों तरफ से क्रॉस फायरिंग में वह घायल हो गया और अस्पताल भेजे जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. हालांकि इस दौरान उसका साथी मौके से भागने में सफल रहा.

अधिकारी ने बताया कि सोनू सिंह का दुर्दांत आपराधिक इतिहास रहा है. चौकाघाट डबल मर्डर, पत्रकार एनडी तिवारी मर्डर में उसकी सीधी भूमिका थी. उसने एक  मैनेजर की भी पैसा वसूली के मामले में हत्या कर दी थी.

सोनू सिंह लोगों के लिए पिछले 10 साल से परेशानी का सबब बना हुआ था. कई हत्या और लूट के मामलों में सोनू सिंह वांछित था और उसके ऊपर 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे. 

सोनू सिंह ने साल 2021 में पत्रकार और प्रॉपर्टी डीलर एनडी तिवारी की हत्या को भी अंजाम दिया था. सोनू सिंह के एनकाउंटर की खबर जैसे ही मृतक पत्रकार के भाई डीपी तिवारी और अन्य लोगों को मिली वो घटनास्थल पर पहुंच गए और STF टीम को सम्मानित किया. 

इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने बुलडोजर बाबा जिंदाबाद के नारे भी लगाए. डीपी तिवारी ने कहा, लगभग 10-11 महीने पहले उनके भाई एनडी तिवारी जब शूलटंकेश्वर मंदिर से दर्शन करके लौट रहे थे तो मनीष उर्फ सोनू सिंह ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी. आज उसी मनीष को STF ने मार गिराया है. यह बहुत ही सौभाग्य की बात है. मैं इसके लिए सीएम योगी को धन्यवाद देना चाहता हूं.

ये भी पढ़ें: 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें