scorecardresearch
 

मोदी सरकार को संघ की दो टूक, 'किसान और आम आदमी विरोधी छवि से निजात पाओ'

दिल्ली में सोमवार को बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष नेताओं की अहम बैठक हुई, जिसमें संघ नेताओं ने मोदी सरकार को साफ शब्दों में नसीहत दे डाली.

अमित शाह और भैयाजी जोशी की फाइल फोटो अमित शाह और भैयाजी जोशी की फाइल फोटो

दिल्ली में सोमवार को बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष नेताओं की अहम बैठक हुई, जिसमें संघ नेताओं ने मोदी सरकार को साफ शब्दों में नसीहत दे डाली. सूत्रों के मुताबिक, संघ के नेताओं ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को दो टूक कहा कि दस महीने की मोदी सरकार को अपनी किसान और आम आम विरोधी छवि से तुरंत निजात पाने की जरूरत है.

इस बैठक में भूमि अधिग्रहण विधेयक, देश की मौजूदा राजनीतिक स्थिति और जम्मू कश्मीर में गठबंधन सरकार से जुड़े विवादों सहित कई विषयों पर बातचीत हुई. ये नेता केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के निवास पर मिले, जिसमें दिल्ली विधानसभा चुनावों में पार्टी की करारी हार के साथ बिहार जैसे राज्यों में पार्टी की स्थिति के बारे में विचार विमर्श हुआ, जहां इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं. संघ की नसीहत का सीधा इशारा दिल्ली में बीजेपी को आम आदमी पार्टी से मिली शर्मनाक हार की तरफ था. संघ नहीं चाहता कि मोदी सरकार की आम आदमी और किसान विरोधी छवि के चलते पार्टी का बिहार के आने वाले चुनावों में दिल्ली जैसा हश्र हो.

इस बैठक में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, महासचिव राम लाल, राम माधव, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज, अरूण जेटली और गडकरी मौजूद थे. संघ की तरफ से इसमें महासचिव सुरेश भैयाजी जोशी, संयुक्त महासचिव कृष्ण गोपाल और सुरेश सोनी शामिल हुए. हालांकि संघ के नेताओं ने बैठक को सामान्य बताया. पार्टी और संघ नेताओं के बीच ऐसी पिछली बैठक इसी जगह दिसंबर में हुई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें