scorecardresearch
 

राज्यसभा में पेश हुआ वित्त विधेयक, हंगामे की वजह से नहीं हुई चर्चा

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राज्यसभा में वित्त विधेयक पेश कर दिया लेकिन हंगामे की वजह से इस पर चर्चा नहीं हो सकी.

X
राज्यसभा राज्यसभा

संसद के बजट सत्र के दूसरे हिस्से का आज 9वां दिन है. गुरुवार को राज्यसभा में वित्त विधेयक और विनियोग विधेयक 2018 पेश किया जाना है. लोकसभा में भारी हंगामे के बीच यह विधेयक बुधवार को पारित किया गया था और सरकार इसे उच्च सदन में पारित कराने की कोशिश करेगी.  

लोकसभा में बिना चर्चा के वित्त विधेयक पारित कराने पर विपक्ष ने सरकार के ऊपर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगाया है. राज्यसभा में आज विधेयक पेश होने के दौरान भारी हंगामे के आसार हैं, विपक्ष इस मुद्दे को दोनों सदनों में उठाने की तैयारी में है. हालांकि ये धन विधेयक है, ऐसे में राज्यसभा में इसके 14 दिन में मंजूर नहीं होने की स्थिति में भी इसे पारित माना जायेगा. इसके बाद इन्हें राष्ट्रपति की मंजूरी के लिये भेजा जायेगा.

संसद से लाइव अपडेट्स...

03.04 PM: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने वित्त विधेयक को सदन में पेश कर दिया. इस बीच टीडीपी सांसदों के हंगामे की वजह से राज्यसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई

03.03 PM: राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा कि सदन में इस पर चर्चा के लिए 5 मिनट नहीं बल्कि विस्तृत चर्चा की जरूरत है

03.02 PM: उपसभापति ने सदन के बताया कि वित्त विधेयक चर्चा के लिए आ चुका है अगर सदन इस पर चर्चा करके नहीं भेजेगा तो राज्यसभा का महत्व खत्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि मुझे इसे रखने के लिए 5 मिनट दीजिए.

03.01 PM: टीडीपी सांसद वाई एस चौधरी ने आसन से अपना भाषण पूरा करने की मांग की लेकिन उपसभापति ने उन्हें कहा कि वह इसकी अनुमति नहीं दे सकते. इसकी अनुमति सभापति की मौजूदगी में ही दी जा सकती है.

03.00 PM: राज्यसभा की कार्यवाही शुरू

02.02 PM: विपक्षी सांसद सदन में नारेबाजी कर रहे हैं, उप सभापति पी जे कुरियन ने सदन की कार्यवाही 3 बजे तक स्थगित कर दी

02.00 PM: राज्यसभा की कार्यवाही शुरू

12.27 PM: हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित

12.16 PM: राज्य मंत्री पीपी चौधरी ने सदन में स्‍पेसिफिक रिलीफ (संशोधन) बिल पेश किया

- ग्रेच्युटी विधेयक के कानून बन जाने के बाद निजी क्षेत्र में नौकरी करने वाले लोगों को फायदा होगा. उनकी 20 लाख रुपये तक की ग्रेच्युटी की रकम टैक्स फ्री हो जाएगी. अभी संगठित क्षेत्र में 5 साल या इसस ज्यादा अवधि तक नौकरी कर चुके कर्मचारी नौकरी छोड़ने या रिटायर होने के बाद 10 लाख रुपये तक की टैक्स फ्री ग्रेच्युटी के योग्य माने जाते हैं. लेकिन इस बिल की मंजूरी के बाद यह सीमा दोगुनी हो जाएगी.

12.15 PM: हंगामे के बीच ग्रेच्युटी भुगतान (संशोधन) विधेयक 2017 सदन से पारित

12.12 PM: कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा यह बिल काफी अहम है और इसे बिना चर्चा के पारित नहीं किया जाना चाहिए.

12.09 PM: श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने सदन में ग्रेच्युटी भुगतान (संशोधन) विधेयक 2017 पेश किया.  

12.08 PM: सांसद राजू ने आंध्र प्रदेश का मुद्दा उठाया, उन्होंने कहा कि हमारी मांगों पर गौर किया जाए और उम्मीद है कि मुद्दे को जल्द सुलझाया जाएगा.

12.06 PM: टीडीपी सांसद अशोक गजपति राजू लोकसभा में भाषण दे रहे हैं.

12.03 PM: सदन के पटल पर रखे जा रहे हैं दस्तावेज, वेल में आकर सांसद नारेबाजी कर रहे हैं

12.01 PM: लोकसभा की कार्यवाही शुरू

11.11 AM: सभापति ने चौधरी के भाषण के बीच ही हंगामे की वजह से सदन की कार्यवाही को 2 बजे तक स्थगित कर दिया

11.09 AM: वेल में आकर कांग्रेस सांसद हंगामा कर रहे हैं

11.08 AM: वाई एस चौधरी ने आंध्र प्रदेश के बंटवारे के लिए 2014 की यूपीए सरकार और पूरे सदन को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि राज्य के बंटवारे के वक्त जो बातें तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहीं थीं उनको पूरा नहीं किया गया. 

11.07 AM: राज्यसभा में टीडीपी सांसद वाई एस चौधरी ने नोटिस दिया है. वह केंद्रीय कैबिनेट से अपना इस्तीफा देने की वजह सदन को बता रहे हैं.

11.05 AM: हंगामे के चलते लोकसभा की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित

11.05 AM: लोकसभा में संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि सरकार हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है. उन्होंने कहा कि वेल में आकर विपक्षी सांसद हंगामा न करें, बैंकिंग अनियमिताओं से लेकर सदन में कई अहम मुद्दों पर चर्चा होनी है.

11.04 AM: लोकसभा में भारी हंगामा, वेल में आए विपक्षी सांसद

11.03 AM:  राज्यसभा में दस्तावेज पटल पर रखे जा रहे हैं

11.02 AM: लोकसभा की कार्यवाही शुरू

11.00 AM: राज्यसभा में दिवंगत के प्रति श्रद्धांजलि

11.00 AM: राज्यसभा की कार्यवाही शुरू

बीते दिन संसद में ये हुआ

बुधवार को लोकसभा में वित्त विधेयक और विनियोग विधेयक 2018 को मंजूरी दे दी गई. इससे पहले विभिन्न मंत्रालयों और विभागों की 99 मांगों को गिलोटिन के जरिये मंजूरी दी गई. हाल के वर्षो में शायद यह पहला मौका है जब पूरा बजट बिना चर्चा के लोकसभा में पारित हुआ हो.

सदन ने ध्वनिमत से विपक्ष के विभिन्न कटौती प्रस्तावों को नामंजूर कर दिया, साथ ही 21 सरकारी संशोधनों को पारित किया. आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग, पीएनबी धोखाधड़ी मामले समेत विभिन्न मुद्दों पर विभिन्न दलों के सदस्यों के हंगामे के बीच लोकसभा में वित्त एवं विनियोग विधेयक को पारित किया गया.

इसके अलावा बुधवार को लोकसभा में गोरखपुर उपचुनाव में प्रशासन की कथित लापरवाही पर भी जमकर हंगामा हुआ. सपा और कांग्रेस के सांसदों ने यूपी सरकार पर धांधली का आरोप लगाया और स्पीकर सुमित्रा महाजन से न्याय की मांग की.

संसद में आज का एजेंडा

संसद के दोनों सदनों में आज बैंकिंग क्षेत्र की अनियमितताओं पर चर्चा प्रस्तावित है. इसमें पीएनबी बैंक घोटाला और नीरव मोदी का मुद्दा शामिल है. लोकसभा में आज बिना वोटिंग के नियम 193 के तहत बैंक घोटाले पर चर्चा प्रस्तावित है. राज्यसभा में कार्मिक मंत्री जितेंद्र सिंह भ्रष्टाचार निवारण संशोधन विधेयक 2013 को सदन में पारित कराने का प्रस्ताव करेंगे. इस विधेयक में भ्रष्टाचार को गंभीर अपराध की श्रेणी में लाने का प्रावधान है.

राज्यसभा में मोटर यान विधेयक को भी पारित किया जाना है, इसमें ट्रैफिक नियमों तोड़ने पर सख्त जुर्माने जैसे कई प्रावधान शामिल हैं. वित्त मंत्री अरुण जेटली आज राज्यसभा में स्टेट बैंक (निरसन और संशोधन) विधेयक पेश कर सकते हैं. सरकार की कोशिश होगी कि ये विधेयक सदन से पारित हो सके. इस विधेयक में बैंकों के विलय के बाद उनके तर्कसंगत इस्तेमाल पर जोर दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें