scorecardresearch
 

योगा का आइडिया नहीं आया रास, सिर्फ 100 लोगों ने ली क्लास

मोदी सरकार ने कभी केंद्रीय कर्मचारियों के लिए योगा क्लास आयोजित करने की शुरुआत कर दी है, लेकिन शायद सरकारी कर्मचारियों की इसमें ज्यादा दिलचस्पी नहीं है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योग गुरु बाबा रामदेव (फाइल फोटो) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योग गुरु बाबा रामदेव (फाइल फोटो)

मोदी सरकार ने कभी केंद्रीय कर्मचारियों के लिए योगा क्लास आयोजित करने की शुरुआत कर दी है, लेकिन शायद सरकारी कर्मचारियों की इसमें ज्यादा दिलचस्पी नहीं है. 'योगा करने से कम हो जाएंगे रेप'

बुधवार को कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग ने केंद्रीय कर्मचारियों और उनके आश्रितों के लिए योग कैंप लगाया था लेकिन सभी सरकारी कर्मचारियों को न्योता भेजने के बावजूद इसमें सिर्फ 100 लोग ही आए, जबकि इस कैंप में कम से कम 500 लोगों के शामिल होने का अनुमान था. केंद्र सरकार रविवार और गैजेटेड छुट्टियों के अलावा बाकी सभी दिनों में योग सेशन आयोजित कर रही है. ये सेशन मोरारजी देसाई नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ योगा की मदद से दिल्ली में आयोजित किए जा रहे हैं. मोदी बोले, हमने कोयले को हीरा बना दिया

मोदी का योगा प्रेम
एनडीए सरकार ने अपने पहले पूर्ण बजट में इस साल योग को विशेष दर्जा देकर उसे चैरिटेबल एक्टिविटी में शामिल किया था. संयुक्त राष्ट्र ने प्रधानमंत्री मोदी के सुझाव पर ही अमल करके 21 जून को हर साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर मनाने का प्रस्ताव पास किया था. योगा पैंट पर बैन चाहते हैं अमेरिकी सांसद

योगा से कम होंगे रेप
प्रधानमंत्री का योग प्रेम जगजाहिर है, लेकिन उनकी पार्टी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी योगा के नाम पर अजीबोगरीब भाषण देकर उनके लिए मुसीबत खड़ी कर चुके हैं. जोशी ने पिछले महीने कहा था कि योगा करने से देश में रेप की घटनाओं में कमी हो सकती है. यहीं नहीं, उन्होंने यह भी कहा था कि मुस्लिमों को दिन में पांच बार योग करना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें