scorecardresearch
 

जून 2015 से पहले स्कूलों में योगा क्लासेज की तैयारी

मोदी सरकार स्कूलों में योग शिक्षा लागू करने की तैयारी कर रही है. केंद्रीय राज्य मंत्री श्रीपद नाइक (आयुष मंत्रालय) ने कहा कि उनकी सरकार चाहती है कि योग का प्रचार-प्रसार हो और नई पीढ़ी इसे गंभीरता से ले. उन्होंने कहा, 'अगर छोटी उम्र से ही योग की आदत पड़ जाए तो बहुत अच्छा रहता है.'

X
symbolic image symbolic image

मोदी सरकार स्कूलों में योग शिक्षा लागू करने की तैयारी कर रही है. केंद्रीय राज्यमंत्री श्रीपद नाइक (आयुष मंत्रालय) ने कहा कि उनकी सरकार चाहती है कि योग का प्रचार-प्रसार हो और नई पीढ़ी इसे गंभीरता से ले. उन्होंने कहा, 'अगर छोटी उम्र से ही योग की आदत पड़ जाए तो बहुत अच्छा रहता है.'

अंग्रेजी अखबार इकनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक, स्कूलों में योग शिक्षा लागू करने को लेकर आयुष मंत्रालय जल्द ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय को प्रस्ताव भेजेगा. नाइक ने कहा कि उन्हें इस कार्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मदद की उम्मीद है. नाइक के मुताबिक उनका लक्ष्य जून 2015 से पहले योग शिक्षा लागू करना है.

स्कूलों में योग शिक्षा के विवादित पहलुओं पर सफाई देते हुए नाइक ने कहा, 'हमारा मकसद छात्रों पर कुछ थोपना नहीं है. हम तो उन्हें योग की ओर प्रोत्साहित करना चाहते हैं.' उन्होंने बताया कि आयुष मंत्रालय इस संबंध में प्रस्ताव तैयार करने से पहले बाबा रामदेव और श्रीश्री रविशंकर से भी सुझाव लेगा. नाइक ने कहा कि इन दोनों ने योग के प्रचार-प्रचार के लिए बड़ा योगदान दिया है और इस विषय पर इनकी विशेषज्ञता भी किसी से छिपी नहीं है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें