scorecardresearch
 

चेन्नई: आग लगने के कारण डूबी नौसेना की नाव, कोई हताहत नहीं

चेन्नई से करीब 90 नॉटिकल मील पूर्वोत्तर की है घटना. एक आधिकारिक विज्ञप्ति‍ में कहा गया कि 15.6 मीटर लंबी इंटरसेप्टर नाव में गुरुवार तड़के करीब दो बजे आग लग गई.

नौसेना के कहा-‍ नियमित तैनाती के दौरान हुआ हादसा नौसेना के कहा-‍ नियमित तैनाती के दौरान हुआ हादसा

नौसेना की एक इंटरसेप्टर नाव गुरुवार तड़के आग के कारण समुद्र में डूब गई. इस हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ.

नौसेना से जुड़े सूत्रों ने बताया कि घटना चेन्नई से करीब 90 नॉटिकल मील पूर्वोत्तर की है. एक आधिकारिक विज्ञप्ति‍ में कहा गया कि 15.6 मीटर लंबी इंटरसेप्टर नाव में गुरुवार तड़के करीब दो बजे उस समय आग लग गई, जब यह नियमित तैनाती पर थी.

आधि‍कारिक बयान में कहा गया है, 'आग के कारण फाइबर ग्लास रीनफोर्स्ड प्लास्टिक (एफआरपी) को काफी नुकसान पहुंचा , जिससे यह डूब गई. इसे बचाने के लिए चालक दल ने खूब प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हुए. इसमें कोई हताहत नहीं हुआ.'

विज्ञप्ति‍ में कहा गया है कि घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं. नौसेना के अधिकारियों ने नाव में सवार चालक दल के सदस्यों की संख्या सहित आगे का ब्यौरा नहीं दिया.

छह लोग थे सवार
जानकारी के मुताबिक, नाव (FIC 304) की इंजन रूम में जब आग लगी तब उस पर छह लोग सवार थे. इनमें कोई भी अधि‍कारी नहीं था. सभी ने बोट को बचाने का भरसक प्रयास किया, लेकिन असफल होने की स्थिति में वे आखिरी समय में पानी में कूद गए, जिन्हें वहां मौजूद दो और नाव ने फौरन बचा लिया.

भारतीय नौसेना ने 26/11 हमले के बाद FIC 304 बोट की खरीद की थी. नाव की हानि को नौसेना के लिए बड़ी शर्मिंदगी माना जा रहा है, क्योंकि‍ यह 40 टन वजनी नाव समुद्री खतरों के खिलाफ सीमावर्ती इलाकों में सबसे आगे तैनात रहती थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें