scorecardresearch
 

केरल में बोले PM नरेंद्र मोदी- परियोजनाओं के लाभ से जनता को वंचित रखना अपराध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विकास की परियोजना के लंबित होने और इसके लाभ से जनता को वंचित रखने को अपराध बताते हुए कहा कि केंद्र सरकार ऐसी लटकी पड़ी परियोजनाओं को चिंहित कर इनके कार्यों में तेजी ला रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो:Twitter/@BJP4India) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो:Twitter/@BJP4India)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को केरल में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 66 पर बने कोलम बाईपास राष्ट्र को समर्पित किया. इस मौके पर प्रधानमंत्री ने वर्षों से लंबित पड़ी परियोजनायों पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आश्चर्य है कि कुछ परियोजनाएं 20-30 सालों से लंबित है. आम आदमी को इतने लंबे समय से लटके प्रोजेक्ट के लाभ से वंचित रखना एक अपराध है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने लगभग 12 लाख करोड़ रुपये की ऐसी 250 परियोजनाओं की समीक्षा कर 'प्रगति' अभियान के तहत कार्यों में तेजी लाई है.

राष्ट्रीय राजमार्ग 66 पर बने 13 लंबे कोलम बाईपास से तिरुवनंतपुरम और अलपुझा तक की यात्रा पहले की अपेक्षा सुगम और सरल होगी. 352 करोड़ रूपये की लागत बने इस राजमार्ग पर अष्‍टमुडी झील पर 3 बड़े पुल बनाये गए हैं. इस मौके पर जनता को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमने अक्सर देखा है कि आधारभूत संरचना से जुड़ी परियोजनाएं कई कारणों से लटक जाती हैं. इससे जनता का पैसा और समय दोनों की बर्बादी होती है. उन्होंने कहा कि हमने तय किया है कि जनता के पैसे की बर्बादी की परंपरा जारी नहीं रह सकती. 'प्रगति' अभियान के तहत सरकार ने इस समस्या से निजात पाने और ऐसी परियोजनाओं में तेजी लाने का प्रयास किया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे यह देख कर आश्चर्य होता कि कुछ परियोजनाएं 20-30 सालों ले लटकी पड़ी हैं. लंबित परियोजनाओं के लाभ से जनता को वंचित रखना एक अपराध है. अब तक केंद्र सरकार ने 12 लाख करोड़ की ऐसी 250 परियोजनाओं की समीक्षा की है. पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी कनेक्टिविटी की ताकत में विश्वास करते थे और हम उनके विजन को आगे लेकर चल रहे हैं. राष्ट्रीय राजमार्ग से लेकर ग्रामीण सड़कों के निर्माण की गति पिछली सरकार की तुलना में दोगुनी हो गई है.

पीएम मोदी ने कहा कि जब हमारी सरकार बनी तब देश की 56 फीसदी ग्रामीण आबादी सड़कों से जुड़ी थी, लेकिन आज 90 फीसदी से भी ज्यादा ग्रामीण जनसंख्या रोड से जुड़ चुकी है. और हम जल्द ही 100 फीसदी का लक्ष्य प्राप्त कर लेंगे. प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले चार साल में क्षेत्रीय वायु मार्ग में भी काफी सुधार आया है. नए रेल मार्ग के विद्युतीकरण और उन्हें डबल करने का काम तेजी हो रहा है. इससे तेजी से रोजगार सृजन में भी बढ़ोतरी हो रही है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में केंद्र सरकार ने उल्लेखनीय कार्य किए हैं. उन्होंने कहा कि 2018 की वर्ल्ड ट्रैवेल एण्ड टूरिज्म काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक भारत तीसरे स्थान पर है. पर्यटन से मिलने वाली मुद्रा 2013 में 18 बिलियन अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 2017 में 27 बिलियन अमेरिकी डॉलर पहुंच गई.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वे तिरुवनंतपुरम में श्री पद्मनाभास्वामी मंदिर में एक परियोजना का भी उद्घाटन करेंगे. जहां वे भगवान पद्मनाभास्वामी से केरल और देश के अन्य हिस्से के लोगों के कल्याण के लिए प्रार्थना भी करेंगे. गौरतलब है कि इस मंदिर का नाम केरल के प्रमुख पर्यटन स्थलों में शुमार है. जिसे लेकर मान्यता है कि यहां सर्वप्रथम भगवान विष्णु की प्रतिमा मिलने के बाद मंदिर निर्माण हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें