scorecardresearch
 

सीताराम येचुरी ने बताई बीजेपी की जीत की वजह, चुनाव आयोग पर उठाए सवाल

सीताराम येचुरी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने चुनावों के दौरान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर धनबल का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया. सीताराम येचुरी ने कहा कि दुनिया भर के कॉरपोरेट कंपनियों ने बढ़-चढ़कर बीजेपी की मदद की. इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए एक बड़ी रकम बीजेपी को ट्रांसफर की गई.

फाइल फोटो- सीताराम येचुरी फाइल फोटो- सीताराम येचुरी

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी की जीत के कारण बताए, वहीं उन्होंने चुनाव आयोग पर निष्पक्ष तरीके से न संपन्न करा पाने का आरोप भी लगाया. सीताराम येचुरी ने कहा कि  सीताराम येचुरी ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 में यह बात साफ साफ तौर पर नजर आ रही है कि चुनाव प्रक्रिया में सुधार की गुंजाइश है. चुनाव आयोग पर आरोप लगाते हुए उन्होंने दावा किया कि चुनाव आयोग निष्पक्ष चुनाव कराने के अपने वादे पर खरा नहीं उतरा है.

सीताराम येचुरी ने कहा कि सीपीआई (एम) अब चुनाव के मुद्दे पर पूरे विपक्ष को लामबंद करेगी. सीताराम येचुरी ने कहा कि चुनाव आयोग के कमिश्नर की नियुक्ति राष्ट्रपति की ओर से गठित की गई कॉलेजियम के जरिए होनी चाहिए.

सीताराम येचुरी लोकसभा चुनाव की प्रारंभिक समीक्षा को लेकर सेंट्रल कमेटी की बैठक के बाद पत्रकारों से कहा कि उनकी पार्टी ने बीजेपी की जीत पर समीक्षा की है. उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाए कि पार्टी को ध्रुवीरकरण, धनबल और संवैधानिक संस्थानों में घुसपैठ की वजह से जीत मिली.

सीताराम येचुरी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने चुनावों के दौरान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर धनबल का इस्तेमाल करने का आरोप भी लगाया. सीताराम येचुरी ने कहा कि दुनिया भर के कॉरपोरेट कंपनियों ने बढ़-चढ़कर उनकी मदद की. इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए एक बड़ी रकम बीजेपी को ट्रांसफर की गई.

सीताराम येचुरी ने कहा बीजेपी के पक्ष में हिंदुओं को सांप्रदायिक तरीके से ध्रुवीकरण करके पार्टी को फायदा पहुंचाया गया. उन्होंने कहा कि देश भर के तमाम संवैधानिक संस्थानों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की घुसपैठ पिछले 5 सालों में बढ़ गई है आने वाले दिनों में यह और ज्यादा बढ़ेगी.

सीताराम येचुरी ने कहा दक्षिणपंथी ज्यादा मजबूत हो रहे हैं इसलिए वामपंथियों को भी ज्यादा ताकतवर होना पड़ेगा. सीताराम येचुरी ने दावा किया कि यह प्रक्रिया एक अलग तरह का ध्रुवीकरण साबित होगी.

हिंदुत्व के मुद्दे पर सीताराम येचुरी ने कहा कि सॉफ्ट हिंदुत्व, हार्डकोर हिंदुत्व का जवाब नहीं हो सकता है. इसलिए ही सिर्फ और सिर्फ वामपंथ दक्षिण पंथ का जवाब है. सीताराम येचुरी ने कहा कि वे विपक्षी पार्टियों को एकजुट करेंगे और इस बात पर सहमत करेंगे इलेक्शन कमिशन में सुधार लागू किए जाएं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें