scorecardresearch
 

येचुरी बोले- तेल की बढ़ी कीमतें जनता के साथ लूट, वोटों के जरिए जवाब देगी जनता

येचुरी  ने कहा कि विपक्ष का आंदोलन कमजोर नहीं है, जनता सड़कों पर है और वह पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का वोटों के जरिए ही जवाब देगी.

सीताराम येचुरी (फाइल फोटो) सीताराम येचुरी (फाइल फोटो)

पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ रही कीमतों को लेकर विपक्ष ने मोदी सरकार पर हमला बोल दिया है. कांग्रेस पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने तेल के बढ़ते दामों को सरकार द्वारा जनता के साथ खुली लूट करार दिया है. हालांकि विपक्ष द्वारा सड़कों पर आक्रामक ना होने के सवाल पर येचुरी ने कहा कि विपक्ष सड़कों पर है.

पेट्रोल की कीमतें कई राज्यों में ₹80 प्रति लीटर पार कर चुकी हैं वहीं सरकार की ओर से सफाई दी जा रही है कि राज्य भी इस बढ़ोतरी से ज्यादा टैक्स कमा रहे हैं. आजतक से बातचीत में सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा, हमारे पड़ोसी देशों के मुकाबले हमारे देश में तेल की कीमतें लगभग ₹10 प्रति लीटर ज्यादा हैं. सरकार अपनी आमदनी बढ़ा रही है और चंद निजी कंपनियों को फायदा दिला रही है. यह हमला पूरी आवाम के ऊपर हो रहा है.

येचुरी ने ऐलान किया कि तेल की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर जल्दी ही बड़ा जन आक्रोश और जन आंदोलन होगा. मोदी सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए येचुरी ने कहा कि यह सरकार झूठ पर टिकी है. केंद्र सरकार द्वारा राज्यों को हो रही कमाई की दलील पर पलटवार करते हुए येचुरी ने कहा, केंद्र सरकार पेट्रोल के दाम में 36 से ₹40 का टैक्स लेती है. यह सरासर झूठ है कि राज्य सरकारों की वजह से यह दाम बढ़ रहे हैं.

येचुरी ने सवाल उठाया कि अगर केरल की वामपंथी सरकार ₹1 प्रति लीटर तेल की कीमतें कम कर सकती है तो बीजेपी शासित 21 राज्यों में पेट्रोल और डीजल की कीमतें कम क्यों नहीं हो रही हैं? विपक्षी नेता ने केंद्र सरकार पर झूठे आंकड़े पेश करने के साथ तेल की बढ़ी कीमतों को देश की जनता के साथ लूट करार दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें