scorecardresearch
 

CBI ने सिंडिकेट बैंक धोखाधड़ी मामले में CA सहित दो को किया गिरफ्तार

सूत्रों के मुताबिक आरोपियों ने बैंक की तीन शाखाओं (दो जयपुर और एक उदयपुर) के कर्मचारियों के साथ संदिग्ध रूप से कई स्तरों पर फर्जी लेन देन किया जिसमें 18,000 करोड़ रुपये की राशि शामिल थी. हालांकि धोखाधड़ी की राशि केवल 1,000 करोड़ रुपये थी.

सीबीआई ने CA सहित दो को किया गिरफ्तार सीबीआई ने CA सहित दो को किया गिरफ्तार

सीबीआई ने सिंडिकेट बैंक में एक हजार करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में राजस्थान के चार्टर्ड एकाउंटेंट (सीए) और रीयल एस्टेट एजेंट को शुक्रवार को गिरफ्तार किया है.

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार गिरफ्तार किए गए सीए भरत बांब से गुरुवार को एजेंसी के मुख्यालय में पूछताछ की गई जबकि रीयल एस्टेट एजेंट शंकर खंडेलवाल से एजेंसी के जयपुर ऑफिस में पूछताछ की गई थी. दोनों को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया.

दोनों को जयपुर में विशेष सीबीआई जज के सामने पेश किया गया और उन्हें सात दिन के लिए एजेंसी की हिरासत में भेज दिया गया. सीबीआई अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने भरत के कर्मचारी महेंद्र के पास से 67 लाख रुपये नकद और तीन हार्ड डिस्क बरामद किए हैं.

सूत्रों के मुताबिक आरोपियों ने बैंक की तीन शाखाओं (दो जयपुर और एक उदयपुर) के कर्मचारियों के साथ संदिग्ध रूप से कई स्तरों पर फर्जी लेन देन किया जिसमें 18,000 करोड़ रुपये की राशि शामिल थी. हालांकि धोखाधड़ी की राशि केवल 1,000 करोड़ रुपये थी. बताया जा रहा है कि जालसाजी का यह मामला वर्ष 2011 से 2016 के बीच हुआ. कथित आरोपियों ने 380 बैंक खाते फर्जी तरीके से खोले थे. इन बैंक खातों से जो लेन-देन किया गया वह 40 लाख रुपये से पांच करोड़ रुपये के बीच का था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें