scorecardresearch
 

अब एयर इंडिया के पायलट ट्रेनिंग के साथ सीखेंगे योग

एयर इंडिया ने अपने नए केबिन क्रू और पायलट के लिए योगा सत्र रखा है. यही नहीं, बंगलुरु में श्री श्री रविशंकर के आर्ट ऑफ लिविंग आश्रम में सीनियर मैनेजमेंट के लिए भी दो दिन के वर्कशॉप रखे जाने की भी प्लानिंग चल रही है.

एयर इंडिया एयर इंडिया

एयर इंडिया ने अपने नए केबिन क्रू और पायलट के लिए योगा सत्र रखा है. यही नहीं, बंगलुरु में श्री श्री रविशंकर के आर्ट ऑफ लिविंग आश्रम में सीनियर मैनेजमेंट के लिए भी दो दिन के वर्कशॉप रखे जाने की भी प्लानिंग चल रही है.

नए ट्रेनिंग ले रहे क्रू सदस्यों को सुबह साढ़े छह बजे योगा क्लास लेना अनिवार्य कर दिया गया है. एयर इंडिया के एक अधिकारी ने बताया कि नए पायलट की ट्रेनिंग के साथ ही 1 जून से उनके लिए योगा सत्र की शुरुआत की गई है.

एक अधिकारी ने कहा, 'हमने अपने ट्रेनिंग में पायलट और क्र के सदस्यों के लिए पहली बार योगा ट्रेनिंग रखी है. योगा से अनुशासन बढ़ता है और काम का तनाव भी कम होता है.'

एयर इंडिया के वरिष्ठ अधिकारियों के लिए योगा सत्र जून के अंत में होंगे. प्रशिक्षण के हिस्से के तौर पर योगा की पहल कार्मिक विभाग ने शुरू किया. आपको बता दें कि एयर इंडिया ने हाल ही में 300 केबिन क्रू, 78 पायलट की भर्ती की है. इनकी ट्रेनिंग हैदराबाद में एयर इंडिया सेंट्रल ट्रेनिंग एस्टैब्ल‍िशमेंट में होगी.

एयर इंडिया की इस शुरुआत से लग रहा है, जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात से प्रेरित हुए हैं. आपको बता दें कि पीएम मोदी ने 28 मई को ट्वीट किया था कि चलो एक साथ मिलकर पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाते हैं. मोदी की इस बात से संयुक्त राष्ट्र ने पिछले साल दिसंबर में 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की.

खबर है कि सरकार पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को बहुत धूमधाम से मनाएगा. यही नहीं, सभी अधिकारियों को एक सर्कुलर जारी कर 21 जून को राजपथ में 35 मिनट के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कहा गया है, जो सुबह 7 बजे है. इस कार्यक्रम में मोदी और आयुष मंत्री भी शामिल होंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें