scorecardresearch
 

AIADMK के दोनों धड़े एक, EPS बने रहेंगे CM, OPS बने डिप्टी, शशिकला की होगी छुट्टी

तमिलनाडु की राजनीति एक बार फिर से करवट ले रही है. पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की मौत के बाद दो धड़ों में बंटी AIADMK एक बार फिर एक हो गई है.

X
AIADMK के दोनों धड़ों का विलय AIADMK के दोनों धड़ों का विलय

तमिलनाडु की राजनीति एक बार फिर से करवट ले रही है. पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की मौत के बाद दो धड़ों में बंटी AIADMK एक बार फिर एक हो गई है. AIADMK के दफ्तर में ई. पलानीस्वामी और ओ. पन्नीरसेल्वम ने इसका ऐलान किया. पन्नीरसेल्वम पार्टी के संयोजक होंगे, वहीं पलानीस्वामी को सह-संयोजक बनाया गया है.

AIADMK के दफ्तर में विलय के ऐलान के बाद ई. पलानीस्वामी सूबे के मुख्यमंत्री बने रहेंगे, जबकि ओ. पन्नीरसेल्वम को डिप्टी सीएम बनाया गया है. चेन्नई स्थित राजभवन में राज्यपाल ने पन्नीरसेल्वम को डिप्टी सीएम की शपथ दिलाई. खबरों के मुताबिक वित्त मंत्रालय का जिम्मा पन्नीरसेल्वम के पास होगा.

अपडेट्स -

ओ. पन्नीरसेल्वम को डिप्टी सीएम की शपथ दिलाई गई.

- पूर्व सीएम जयललिता की समाधि पहुंच ई. पलानीस्वामी और ओ. पन्नीरसेल्वम ने श्रद्धांजलि दी.

- शशिकला को पार्टी से बाहर किया जाएगा.

- पन्नीरसेल्वम साढ़े 4 बजे उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. उन्हें वित्त मंत्री बनाया जाएगा.

- ई. पलानीस्वामी का ऐलान, जल्द ही अपना चुनाव चिन्ह वापस लेंगे.

- ओ. पन्नीरसेल्वम पार्टी के संयोजक होंगे, वहीं ई. पलानीस्वामी सह-संयोजक होंगे.

- हमारा लक्ष्य अम्मा और एमजीआर के सपने को पूरा करना है. मर्जर के लिए ओ. पन्नीरसेल्वम को धन्यवाद - ई. पलानीस्वामी

- तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी ने मर्जर का औपचारिक ऐलान किया.

- समर्थकों को संबोधित करते हुए ओ. पन्नीरसेल्वम ने कहा कि हमारी एक ही मां है, हमारी एक ही पार्टी है. हम एक परिवार हैं.

 

- AIADMK दफ्तर में दोनों गुट मौजूद हैं, ई. पलानीस्वामी और ओ. पन्नीरसेल्वम समर्थकों को संबोधित कर रहे हैं.

- तमिल एक्टर कमल हासन ने इस मर्जर पर चुटकी लेते हुए ट्वीट किया कि तमिलनाडु ने गांधी की टोपी देखी है, भगवा टोपी देखी है, कश्मीरी टोपी देखी है और अब मूर्ख वाली टोपी देख रहे हैं. आनंद लो, तमिलनाडु.

 

 

- सोमवार शाम को ही उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं ओ. पन्नीरसेल्वम

- साझा प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करेंगे पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम

- मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी AIADMK दफ्तर पहुंच चुके हैं, थोड़ी देर में पन्नीरसेल्वम भी यहां पहुंचेंगे.

- AIADMK दफ्तर के लिए निकले ओ. पन्नीरसेल्वम, खुद ट्वीट कर दी जानकारी.

- शशिकला गुट की सरस्वती ने कहा कि ई. पलानीस्वामी को याद रखना चाहिए कि उन्हें मुख्यमंत्री चिनम्मा (शशिकला ) ने ही बनाया था.

मर्जर से पहले दिखा टकराव

लेकिन मर्जर से पहले ही दोनों गुटों में टकराव दिख रहा है. पन्नीरसेल्वम गुट ने मांग की है कि पहले शशिकला को पार्टी से बाहर किया जाए, तभी वह पार्टी हेडक्वाटर में आएंगे.

शशिकला हो पार्टी से बाहर

बता दें कि इससे पहले खबर थी कि दोनों गुटों के विलय की स्थिति में तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम पार्टी प्रमुख होंगे, जबकि मुख्यमंत्री ई पलानीसामी मुख्यमंत्री बने रहेंगे. पन्नीरसेल्वम गुट के एक नेता ने यह जानकारी दी है. नेता ने यह भी कहा कि सरकार पार्टी के वर्तमान पदाधिकारियों को बाहर का रास्ता दिखाए बिना पार्टी के और सदस्यों के लिए विधान परिषद के पुनर्जीवन की संभावना पर भी विचार कर सकती है.

शशिकला होगीं दरकिनार

सूत्रों की मानें, तो ई पलानीस्वामी गुट चाहता है कि पार्टी की ओर शशिकला को साइडलाइन करने का एक नोटिस जारी किया जाए. दोनों गुट समन्वय के लिए एक कमेटी बनाएंगे. शशिकला के खिलाफ प्रस्ताव पास होने के बाद दो मौजूदा मंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ग्रुप को औपचारिक रूप से मर्जर के लिए बुलावा देंगे.

उप मुख्यमंत्री बन सकते हैं पन्नीरसेल्वम

तमिलनाडु के तत्कालीन मुख्यमंत्री और एआईएडीएमके के संस्थापक एम जी रामचंद्रन ने 1986 में विधान परिषद को समाप्त कर दिया था. नेता ने नाम का खुलासा ना करने की शर्त पर कहा, 'जहां तक पार्टी मामलों का सवाल है, पन्नीरसेल्वम सबसे ऊपर और उसके बाद पलानीसामी का स्थान होगा. वहीं, सरकार में संभवत: पन्नीरसेल्वम उप मुख्यमंत्री होंगे.'

सरकार और पार्टी में ठीक की जाएंगी चीजें

उन्होंने कहा, 'हमारे गुट के कुछ विधायकों को भी मंत्रिपरिषद में स्थान मिलेगा.' पन्नीरसेल्वम गुट द्वारा सरकार के खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर नेता ने कहा, 'स्थिति में सुधार किया जाएगा. सरकार और पार्टी में चीजें ठीक की जाएंगी.'

AIADMK में कोई मतभेद नहीं

पन्नीरसेल्वम ने शनिवार को कहा था, 'एआईएडीएमके में कोई मतभेद नहीं हैं और तमिलनाडु की जनता व एआईएडीएमके के कार्यकर्ताओं की इच्छानुसार विलय के लिए बातचीत सही प्रकार से जारी है, जितनी जल्द हो सकेगा, कोई अच्छा फैसला ले लिया जाएगा.'

वापस मिल जाएगा चुनाव चिन्ह

18 अगस्त को दोनों गुट विलय के करीब थे और मरीना बीच पर दिवंगत मुख्यमंत्री जे. जयललिता के स्मारक पर किसी घोषणा की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन अंतिम क्षणों में पैदा हुई जटिलताओं के कारण इसमें देर हो गई. विलय की स्थिति में एआईएडीएमके को अपना चुनाव चिन्ह 'दो पत्तियां' वापस मिल जाएगा.

जरूरी था शशिकला को निकालना

एआईएडीएमके नेता के पी मुनुस्वामी ने शनिवार को इन खबरों को खारिज किया कि वह दोनों गुटों के विलय में रोड़ा अटका रहे हैं. लेकिन उन्होंने साथ ही कहा कि पार्टी और राज्य के हित में शशिकला को पार्टी से निकाला जाना जरूरी है. पूर्व मंत्री और पन्नीरसेल्वम गुट के दिग्गज नेता मुनुस्वामी ने कहा कि जयललिता की करीबी रहीं शशिकला को निकाला जाना पन्नीरसेल्वम द्वारा शुरू किए गए 'धर्म युद्ध' की बुनियादी जरूरत है.

पन्नीरसेल्वम के हर फैसले का समर्थन

उन्होंने पूछा, 'मैंने इस मामले में एक कड़ा रुख अपनाया है. इसे रोड़ा कैसे कहा जा सकता है?' हालांकि, मुनुस्वामी ने कहा कि वह और अन्य सभी पन्नीरसेल्वम के हर फैसले का समर्थन करेंगे.

एनडीए में शामिल होगी AIADMK

गौरतलब है कि पिछले काफी समय से AIADMK के एनडीए में शामिल होने की अटकलें चल रही हैं. इससे पहले खबर आई थी कि वहीं मोदी सरकार के एक कैबिनेट मंत्री AIADMK के दोनों धड़ों प्लानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम के बीच मध्यस्थता में जुटे हैं. ऐसा माना जा रहा है कि अगर यह बातचीत सफल रहती है, तो तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी एनडीए सरकार में शामिल हो जाएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें