scorecardresearch
 

अलवर: नाबालिक के रेप पर 'मूक-बधिर' क्यों राजस्थान सरकार? गुनहगार अब भी फरार

अलवर: नाबालिक के रेप पर 'मूक-बधिर' क्यों राजस्थान सरकार? गुनहगार अब भी फरार

अलवर में एक और निर्भया मौत से जूझ रही है. तीन दिन बाद भी उसके गुनहगारों तक पुलिस नहीं पहुंच पाई है. वो नाबालिग बच्ची जो ना बोल सकती है, ना सुन सकती है. पुलिस और प्रशासन तो मानने को भी तैयार नहीं कि मासूम के साथ रेप हुआ. मामले ने सियासी तूल पकड़ा तो गहलोत सरकार की नींद खुली. राजस्थान के अलवर में उस नाबालिग बच्ची को कैसे मिलेगा इंसाफ और न्याय, जिसके साथ दहशत भरी दरिंदगी करने वाले अपराधियों को तीन दिन से ज्यादा बीतने के बाद अलवर की पुलिस खोज नहीं पा रही है. देखिए ये रिपोर्ट.

The 15-year-old minor girl was brought to Jaipur's JK Lon hospital, where she is currently in a critical condition. The deaf-mute girl was allegedly brutally gangraped in Rajasthan's Alwar district, in a case reminiscent of Delhi's Nirbhaya gangrape case. But it has been 3 days and the Rajasthan Police is unbale to catch the accused. Watch.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×