scorecardresearch
 

राजस्थान: आज से शुरू होगी यह स्पेशल बस सेवा, अस्थि विसर्जन के लिए मुफ्त होगा सफर

इसके लिए अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली राजस्थान सरकार ने उत्तराखंड सरकार के साथ समझौता किया है. जिसके बाद अब राजस्थान के लोग विशेष बसों की मदद से आसानी से हरिद्वार जाकर अपने परिजनों की अस्थियों को गंगा नदी में प्रवाहित कर सकेंगे.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटो) राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फाइल फोटो)

  • श्मशान घाट में रखी अस्थियां कर रही थीं इंतजार
  • अब अस्थियों को विसर्जित करने जा सकेंगे परिजन

राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए मोक्ष कलश विशेष नि:शुल्क बस सेवा की शुरुआत सोमवार से करने का फैसला लिया है. राज्य सरकार के इस फैसले से उन परिवारों को मदद मिलेगी जो लॉकडाउन की वजह से अपने परिजनों के अवशेष को विसर्जित नहीं कर पा रहे थे.

राजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा रविवार को जारी एक वक्तव्य में कहा गया है, "पहली विशेष बस सोमवार को जाएगी. एक कलश के साथ दो लोग जा सकेंगे और उनको राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम के पोर्टल rsrtconline.rajasthan.gov.in पर अपना पंजीयन करवाना होगा. इस पहल का प्रदेश भर में आमजन से अच्छा रेस्पोंस मिला है."

यह भी पढ़ें: गहलोत सरकार का आदेश- अस्थियां विसर्जित करने जा रहे लोगों की यात्रा होगी मुफ्त

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने वक्तव्य में आगे कहा, "हमारी पिछली सरकार के समय शुरू की गई वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना का भी लोगों को काफी लाभ मिला था. उसी तर्ज पर इस योजना का लाभ भी अपनों की अस्थियों के विसर्जन का इंतजार कर रहे लोगों को मिले. क्योंकि यह कई परिवारों के लिए बहुत संवदेनशील विषय है."

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

इस योजना के तहत प्रत्येक कलश के साथ दो व्यक्ति राजस्थान से बस में उत्तराखंड जा पाएंगे. इस योजना के लिए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने उत्तराखंड की सरकार से एग्रीमेंट किया था. इसके साथ ही गहलोत सरकार उत्तर प्रदेश की सरकार से भी समझौता करने की कोशिश कर रही थी.

इस विशेष नि:शुल्क बस सेवा की शुरुआत करने का फैसला मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निवास पर उच्च स्तरीय बैठक के दौरान लिया गया था.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें