scorecardresearch
 

राजस्थान: RSS नेता के खिलाफ केस दर्ज, कांग्रेस और बीजेपी में मचा घमासान

भाजपा प्रदेश कार्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई, जिसमें वरिष्ठ नेता राजेंद्र राठौड़ ने राजस्थान की सरकार पर राजनीतिक प्रतिद्वंदिता को पूरा करने के लिए एसीबी और एसओजी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया.

राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (फाइल फोटो) राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा आरएसएस नेता निंबाराम के खिलाफ केस दर्ज
  • भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ ने राजस्थान सरकार पर साधा निशाना

राजस्थान में कांग्रेस और बीजेपी के बीच घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब एक बार फिर प्रदेश में एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा आरएसएस नेता के खिलाफ केस दर्ज करने के बाद कांग्रेस और बीजेपी के बीच तलवारें खींच गई हैं. इससे पहले मंगलवार को कांग्रेस कमेटी की बैठक में बीजेपी को घेरने का फैसला लिया गया था.

राजस्थान में एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा आरएसएस नेता निंबाराम के खिलाफ केस दर्ज कर लेने के बाद कांग्रेस और भाजपा के बीच घमासान मचा है और राजनीतिक पारा एकदम से बढ़ गया है. राजस्थान के एंटी करप्शन ब्यूरो द्वारा मंगलवार को भारतीय दंड संहिता की धारा 120 बी के तहत कई लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया.

इनमें जयपुर ग्रेटर की निलंबित मेयर और बीजेपी नेता डॉक्टर सौम्या गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर, एक निजी कंपनी के दो कर्मचारियों समेत आरएसएस नेता निंबाराम का नाम भी शामिल था. इसके बाद राजस्थान की राजनीति में बवाल मच गया. बुधवार को पहले कांग्रेस के राजस्थान के मुखिया गोविंद सिंह डोटासरा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें उन्होंने भाजपा और संघ को जमकर खरी-खोटी सुनाई. 

क्या कहा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डोटासरा ने?

गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा, "भाजपा-RSS के भ्रष्टाचार के आकंठ डूबने के प्रमाण मिले हैं. पूरे प्रदेश में चर्चा है कि भाजपा मेयर के पति ने आरएसएस दफ्तर में प्रदेश RSS प्रमुख की मध्यस्थता में BVG कंपनी को 276 करोड़ रुपये के भुगतान के एवज में 10% कमीशन मांगा, जिसका ऑडियो-वीडियो जारी हुआ है. एसीबी ने मामले में प्राथमिक जांच के बाद बीजेपी मेयर के आरोपी पति राजाराम को गिरफ्तार कर लिया है. भ्रष्टाचार सामने आने के बाद BJP-RSS का चेहरा बेनकाब हो चुका है. घूसकांड के वीडियो की प्रामाणिकता की जांच FSL व राजस्थान राज्य विधि विज्ञान प्रयोगशाला में की गई है."

उसके बाद भाजपा प्रदेश कार्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई, जिसमें वरिष्ठ नेता राजेंद्र राठौड़ ने राजस्थान की सरकार पर राजनीतिक प्रतिद्वंदिता को पूरा करने के लिए एसीबी और एसओजी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया.

राजेंद्र राठौड़ ने प्रदेश सरकार पर साधा निशाना

भाजपा नेता राजेंद्र राठौड़ ने कहा, ''मुख्यमंत्री @ashokgehlot51 जी की फितरत ही ऐसी है कि वो राजनैतिक प्रतिद्वंदिता को पूरा करने के लिए एसीबी और एसओजी का दुरुपयोग करें. राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से राज्य सरकार ने एसीबी का इस्तेमाल करके अब एक राष्ट्रवादी संगठन को निशाना बनाया है. भाजपा सदन से सड़क तक इस अन्याय के विरुद्ध जोरदार आवाज़ उठाएगी."

बता दें कि राजस्थान की एंटी करप्शन ब्यूरो यूनिट ने भाजपा नेता डॉक्टर सौम्या गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया था. राजाराम गुर्जर को एक निजी कंपनी के कर्मचारी से रिश्वत मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया गया. एंटी करप्शन ब्यूरो ने निजी कंपनी बीवीजी के कर्मचारी ओंकार सप्रे को भी गिरफ्तार किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें