scorecardresearch
 

कांग्रेस हेडक्वार्टर के बाहर सात दिन से मुर्गा क्यों बन रहे हैं राजस्थान के ये छात्र?

कम्प्यूटर में पोस्ट ग्रेजुएट युवा नई दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर मुर्गा बनकर संविदा भर्ती का विरोध कर रहे हैं. प्रदर्शन कर रहे युवाओं का आरोप है कि गहलोत सरकार स्थाई भर्ती करने की जगह ठेके पर नियुक्ति कर रही है. यह बेरोजगारों का अपमान है.

दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे राजस्थान के युवा दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे राजस्थान के युवा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पिछले सात दिन से दंडवत होकर कर रहे विरोध प्रदर्शन
  • कम्प्यूटर शिक्षकों की संविदा भर्ती के खिलाफ हैं युवा

राजस्थान सरकार ने 2020-21 के बजट में कम्प्यूटर शिक्षक कैडर बनाने की घोषणा की थी. राजस्थान सरकार के इस ऐलान से कम्प्यूटर डिग्री धारकों की बांछे खिल गई थीं. बेरोजगारी के इस दौर में कम्प्यूटर डिग्रीधारकों को रोजगार की आस दिखाई दी थी. अब राजस्थान सरकार की ओर से किए गए नए ऐलान से कम्प्यूटर डिग्रीधारकों में मायूसी छा गई है कि ये भर्ती नियमित ना कर संविदा पर की जाएगी.

राजस्थान के कम्प्यूटर डिग्रीधारक अब राज्य सरकार से लेकर गांधी परिवार तक आवेदन दे रहे हैं, विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. इन युवकों ने संविदा पर कम्प्यूटर के अध्यापकों की भर्ती को लेकर निराशा हाथ लगने पर अब अनोखा विरोध किया है. कम्प्यूटर में पोस्ट ग्रेजुएट युवा नई दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर मुर्गा बनकर संविदा भर्ती का विरोध कर रहे हैं.

पिछले सात दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं युवा
पिछले सात दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं युवा

प्रदर्शन कर रहे युवाओं का आरोप है कि गहलोत सरकार स्थाई भर्ती करने की जगह ठेके पर नियुक्ति कर रही है. यह बेरोजगारों का अपमान है. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश में इसी बात का विरोध किया था. युवाओं का आरोप है कि कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व राजस्थान में आकर बिल्कुल चुप्पी साध लेता है.

मुर्गा बनकर प्रदर्शन कर रहे युवा
मुर्गा बनकर प्रदर्शन कर रहे युवा

युवाओं का कहना है कि वे पिछले सात दिन से दंडवत करके, मुर्गा बन कर अलग-अलग दफ्तरों में कांग्रेस का विरोध कर रहे हैं. वे कहते हैं कि इस मसले को लेकर उन्होंने पवन बंसल से लेकर केसी वेणुगोपाल और राहुल गांधी के दफ्तर तक, हर जगह ज्ञापन दे चुके हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही. संविदा भर्ती का विरोध कर रहे कम्प्यूटर डिग्रीधारी बेरोजगार युवाओं ने आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें