scorecardresearch
 

राजस्थान में मिला कोरोना वायरस का संदिग्ध केस, केंद्र ने स्थिति का लिया जायजा

चीन से लौटे 17 लोगों की भी स्क्रीनिंग की गई है, मगर उनमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं. एहतियात के तौर पर इनकी भी स्क्रीनिंग कर इनको अलग वार्ड में रखा जा रहा है. सभी लोग राजस्थान के अलग-अलग 4 जिलों के हैं.

चीन से लौटे लोगों की जा रही स्क्रीनिंग चीन से लौटे लोगों की जा रही स्क्रीनिंग

  • स्वास्थ्य विभाग को पुणे से सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार
  • राजस्थान में पिछले दिनों चीन से आए हैं 18 लोग

जयपुर में कोरोना वायरस के संदिग्ध मिलने पर केंद्र सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर राजस्थान के स्वास्थ्य अधिकारियों से बातचीत की है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद राजस्थान के अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा रोहित कुमार सिंह ने बताया कि कुल 18 लोग चीन से लौटे हैं. उनकी स्क्रीनिंग की गई है, इनमें से एक व्यक्ति को कोरोना वायरस का संदिग्ध पाया गया है. उसे सवाई मानसिंह अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया हैं और सैंपल जांच के लिए पुणे भेजा है.

चीन से लौटे 18 लोग

बताया जा रहा है कि चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस से अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं चीन का वुहान शहर कोरोना वायरस का केंद्र बना हुआ है और चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस तेजी से दुनियाभर में फैलता जा रहा है. जानकारी के अनुसार राजस्थान में पिछले दिनों चीन से 18 लोग आए हैं जिनमें से वहां एमबीबीएस कर रहे एक छात्र में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए. जिसके बाद छात्र को सवाई मानसिंह अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है.

ये भी पढ़े: कोरोना वायरस से 25 की मौत, 835 संक्रमित, भारत ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

चीन से लौटे बाकी के 17 लोगों की भी स्क्रीनिंग की गई है, मगर उनमें इस तरह के कोई लक्षण नहीं पाए गए हैं. एहतियात के तौर पर इनकी भी स्क्रीनिंग कर इनको अलग वार्ड में रखा जा रहा है. बताया जा रहा है कि यहां सभी लोग राजस्थान के अलग-अलग 4 जिलों के हैं और वहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजी गई है जो कि संक्रमण की जांच करेगी.

सैंपल रिपोर्ट का इंतजार

राजस्थान सरकार ने केंद्र सरकार को पूरी जानकारी दी है. जयपुर एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की विशेष व्यवस्था की गई है. इसके अलावा सवाई मानसिंह अस्पताल में कोरोना वायरस के लिए अलग से आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है.

ये भी पढ़े: कोरोना वायरस से संक्रमित हुई केरल की नर्स, सीएम ने केंद्र को लिखा खत

राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि राज्य में अलर्ट जारी किया गया है. कहा गया है कि चीन से आए हर व्यक्ति की जांच की जाए और इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को दी जाए.

कोरोना वायरस के संदिग्ध का इलाज सवाई मानसिंह अस्पताल में चल रहा है और स्वास्थ्य विभाग पुणे से आने वाले सैंपल रिपोर्ट का इंतजार कर रही है. सवाई मानसिंह अस्पताल में इस तरह की व्यवस्था की गई है कि दूर तक किसी तरह का कोई संक्रमण इस वायरस के संदिग्ध से ना फैले.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें