scorecardresearch
 

गहलोत ने कहा- BJP घबराकर जयपुर में करने आई बैठक, दंगों के आरोपी बीजेपी के बड़े नेता

बीजेपी जयपुर में चिंतन शिविर आयोजित कर रही है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, तीनों दंगे में कोई मौत नहीं होने दी. करौली में पहली घटना थी, इसलिए आगजनी की साजिश में सफल हो गए.

X
अशोक गहलोत फाइल फोटो अशोक गहलोत फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'राज्य में कानून का राज'
  • 'सब निष्पक्ष होकर कर रहे काम'
  • 'कोई राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं चलेगा'

कांग्रेस के बाद अब बीजेपी राजस्थान के जयपुर में अपना तीन दिवसीय चिंतन शिविर आयोजित कर रही है. इस पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत BJP हमलावर हो गए हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के उदयपुर के चिंतन शिविर से घबराकर BJP ने अपना चिंतन शिविर जयपुर में आयोजित किया है. गहलोत ने कहा कि देश में हिंदू मुसलमान ये घबराहट में करा रहे हैं क्योंकि मंहगाई और बेरोज़गारी पर लोग सवाल पूछेंगें. राजस्थान सरकार ने शहरी रोजगार गारंटी योजना लागू किया है अब ये देश में लागू करना चाह रहे हैं. इनके पास कोई मुद्दा नहीं है इसलिए करौली में आगजनी किए. 

गहलोत ने कहा, तीनों दंगे में कोई मौत नहीं होने दी. करौली में पहली घटना थी, इसलिए आगजनी की साजिश में सफल हो गए. उस मामले में बीजेपी के बड़े नेता आरोपी है और फरार हैं. ये झूठ बोलते हैं. पूर्वी नहर परियोजना को लेकर जोधपुर के जलशक्ति मंत्री ने झूठ बोला था वो कब संन्यास लेंगें उसका हमले इंतजार कर रहे हैं.

गणेश घोघरा के विधायक पद से इस्तीफे पर बोले गहलोत
कांग्रेस विधायक और युवक कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश घोघरा के विधायक पद से इस्तीफे के सवाल पर गहलोत ने कहा कि वो हमारा जवान साथी है वो भावुक आदमी है और संघर्ष करते रहते हैं अपनी जनता के लिए, उसकी तो तारीफ करनी चाहिए, सभी जगह जो जनप्रतिनिधि जनता के बीच जाएगा, जैसा राहुल गांधी जी ने कहा था कि जनता से कनेक्शन जोड़ो, इसलिए गणेश घोघरा जी ने अगर कोई कदम उठाया है, तो इसमें वहां पर जनसुनवाई करने के लिए, जाना चाहिए सब विधायकों को, सब कार्यकर्ताओं को जाना चाहिए. 

'राज्य में कानून का राज'
सीएम ने कहा, क्योंकि हमारा असली काम राजनीति करने वाला यही होता है कि आप जब मौका मिले जनता से मिलें, जनसुनवाई करें और समस्या हल करें, ये तो ठीक है. वहां घटना एक दूसरी हो गई, वहां कोई अतिउत्साह में किसी को बंद कर दिया एसडीएम को बंद कर दिया, तो कानून का राज है राजस्थान के अंदर और कानून का राज रहना चाहिए, इसलिए एफआईआर दर्ज हो गई. 

'सब निष्पक्ष होकर कर रहे काम'
गहलोत ने कहा, राजस्थान में हत्या के मामले में कांग्रेस के सचेतक महेंद्र चौधरी के भाई और बहन के देवर की गिरफ़्तारी के सवाल पर गहलोत ने कहा कि आप राजनीतिक पद पर बैठे हुए हो, विधायक हो, एमपी हो या मंत्री अगर कोई रिलेटिव कोई काम करता है, गलत काम करता है, कानून उसका अपना काम करेगा और हमारे राज में पहला यही मामला है कि राजस्थान में मैंने तमाम अधिकारियों को गृह विभाग को, पुलिस प्रशासन को, सबको दो टूक कहा हुआ है कि आपको निष्पक्ष होकर काम करना है.

'कोई राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं चलेगा'
सीएम ने कहा, नीचे से ऊपर तक, कोई राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं चलेगा, न करना चाहिए किसी को. फरियादी कोई आता है, अन्याय हो रहा है, उत्पीड़न हो रहा है, आप उसके लिए बात कर सकते हो कि हमारे पास ये फीडबैक है, पर जो अधिकारी है, उसकी ड्यूटी है कि जिसने क्राइम किया है, उसके बचाव की कोई सिफारिश किसी की नहीं माने, जो पीड़ित पक्ष है, उसको न्याय सुनिश्चित करने के लिए बात सुनना उसका फर्ज बनता है, चाहे वो एमएलए हो, एमपी हो, या कोई भी मंत्री हो, ये उसका फर्ज बनता है, वहां अगर कोताही करते हैं तो हमें तकलीफ होती है, वरना वो अपना काम करे, निष्पक्ष जांच करे, हमें खुशी होगी. 

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा  पेपर आउट पर क्या बोले गहलोत  
राजस्थान में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर आउट होने के सवाल पर गहलोत ने कहा कि देश के सभी राज्यों में अभी 20 दिन पहले बिहार में अभी 5-10 दिन पहले मेरे ख्याल से पंजाब में सब जगह पर्चे आउट हो रहे हैं, ये जो गैंग बन चुकी है देश के अंदर, ये भी उसका परिणाम भी है कि जो बेरोजगारी फैल रही है, बेरोजगारी का मुद्दा देश में बना हुआ है, जिसके लिए हम कहते हैं कि ध्यान डायवर्ट कर रहे हैं, ये भी उसी का परिणाम है. जो क्राइम हो रहा है, रेप हो रहे हैं, काफी हद तक उसमें भी उसका कारण होता है कि जब आदमी फ्रस्ट्रेशन में आता है, ये क्राइम करता है, नशा-पता करता है, क्या-क्या नहीं करता है? 

'नौकरी देने पर हमारा ध्यान'
भारत सरकार हो चाहे राज्य सरकारें हों, हम सबकी ड्यूटी बनती है कि अधिक से अधिक हम कैसे नौकरियां लगवाएं नौजवानों की, छात्रों की, बेरोजगारों की, चाहे सरकारी हो, चाहे गैर-सरकारी हो, तो कहीं न कहीं रोजगार मिलना चाहिए उनको, नहीं मिलेगा तो क्राइम बढ़ेगा, घटनाएं बढ़ेंगी और पेपर लीक की तरह घटनाएं भी गैंग बनाकर होंगी, जो हो रही हैं, हर राज्य में होने लग गई हैं, यूपी में बहुत बड़ी घटना हुई थी आपको मालूम है, हर राज्य में होने लग गई हैं, तो ये बहुत चिंता का विषय है. राजस्थान में हमने कानून भी पास किया है, हम चाहते हैं कि उसको हम लोग सुनिश्चित करेंगे कि यहां टाइम पर रोजगार मिले लोगों को. हमने इतनी बड़ी संख्या में नौकरियां निकाली हैं, उसका फायदा तो मिले लोगों को, ये हमारी सोच है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें