scorecardresearch
 

'जगन मोहन रेड्डी को स्थायी अध्यक्ष बनाने का फैसला अलोकतांत्रिक', आयोग ने खारिज किया चुनाव

आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी को वाईएसआरसीपी का स्थायी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने के फैसले को चुनाव आयोग ने रद्द कर दिया है. साथ ही ऐसी खबरों पर आयोग ने उनसे स्पष्टीकरण भी मांग लिया है. हालांकि पार्टी ने आयोग को बताया है कि उसने ऐसी खबरों को लेकर जांच शुरू कर दी है, जल्द ही कार्रवाई की जाएगी.

X
चुनाव आयोग ने सीएम जगन मोहन रेड्डी से मांगा स्पष्टीकारण (फाइल फोटो) चुनाव आयोग ने सीएम जगन मोहन रेड्डी से मांगा स्पष्टीकारण (फाइल फोटो)

चुनाव आयोग ने आधंप्रदेश के सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी के वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के स्थायी अध्यक्ष के रूप में चुनाव को खारिज कर दिया है. उन्हें इस साल जुलाई में पार्टी का स्थायी अध्यक्ष घोषित किया गया था. चुनाव आयोग ने जगन मोहन रेड्डी को स्थायी अध्यक्ष नियुक्त किए जाने संबंधी खबरों पर स्पष्टीकरण देने को कहा है. 

संगठनात्मक पद को स्थायी करना अलोकतंत्रिक

चुनाव आयोग ने अपने आदेश में वाईएस जगन मोहन रेड्डी को फटकार लगाते हुए कहा कि ऐसी कोई भी कार्रवाई जो किसी भी पद के लिए चुनाव प्रक्रिया को ठुकराती है, स्वाभाविक रूप से अलोकतांत्रिक है और आयोग के मौजूदा निर्देशों का पूरी तरह उल्लंघन है. 

सार्वजनिक घोषणा जारी करने का भी आदेश

आयोग ने बुधवार को पार्टी को एक स्पष्ट सार्वजनिक घोषणा करने का निर्देश दिया है, जिसमें वाईएस जगन मोहन रेड्डी को वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के स्थायी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त करने की मीडिया रिपोर्टों का खंडन करने को कहा है, ताकि इस तरह के भ्रम की संभावना को खत्म किया जा सके क्योंकि इस मामले में अन्य राजनीतिक संगठनों में भ्रम पैदा करने की क्षमता है. 

पार्टी कर रही जांच, करेंगे कार्रवाई

वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने बाद में चुनाव आयोग से कहा कि मीडिया में आई ऐसी खबरों के के मामले में पार्टी ने एक आंतरिक जांच शुरू की है. तथ्यों का पता चलने पर पार्टी द्वारा आवश्यक कार्रवाई की जाएगी. निर्वाचन आयोग ने जगन को आजीवन स्थायी अध्यक्ष बनाने संबंधी खबरों पर वाईएसआरसी से स्पष्टीकरण मांगा है.

(रिपोर्ट: अब्दुल)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें