scorecardresearch
 

बिहार: तालिबान को आतंकी घोषित क्यों नहीं करते PM मोदी- ओवैसी का सवाल, सीएम योगी पर भी निशाना

ओवैसी ने सीएम योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएम योगी मंच से झूठ बोलते हैं, झूठ बोलना उनकी आदत में शुमार है. पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर पीएम मोदी में हिम्मत होती तो वह तालिबान को आतंकी संगठन घोषित कर चुके होते.

AIMIM प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी. (फाइल फोटो) AIMIM प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सीएम योगी की आदत में झूठ बोलना: ओवैसी
  • तालिबान को आतंकी क्यों घोषित नहीं करती मोदी सरकार: ओवैसी

बिहार (Bihar) के पटना (Patna) में AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Assadudin Owaisi) ने पीएम मोदी (PM Modi) और सीएम योगी (CM Yogi) पर निशाना साधा है. ओवैसी ने कहा कि सीएम योगी मंच से झूठ बोलते हैं, झूठ बोलना उनकी आदत में शुमार है. पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा कि अगर पीएम मोदी में हिम्मत होती तो वह तालिबान को आतंकी संगठन घोषित कर चुके होते.

पटना में ओवैसी ने सीएम योगी पर हमला बोलते हुए कहा, 'यूपी के स्कूलों में छात्रों का ड्रॉप आउट रेट 60 प्रतिशत है. मुस्लिमों को सरकारी योजनाओं के तहत घर नहीं मिल रहा है. सीएम योगी झूठ बोलकर अपनी गिरती साख को बचा नहीं सकते हैं. उन्होंने कहा कि सीएम गाय, भैंस और लड़कियों की तुलना कैसे कर सकते हैं? क्या यही महिलाओं का सम्मान है?

मैंने कहा था तालिबान लौटेगा - ओवैसी

ओवैसी ने आगे कहा कि लाल कृष्ण आडवाणी ने भी पाकिस्तान में जिन्ना की तारीफ की थी. हम जिन्ना की टू नेशन थ्योरी को खारिज करते हैं. उन्होंने कहा कि हम 2013 से कहते आ रहे हैं कि सीएए धर्म से परे होना चाहिए. मैंने कहा था कि तालिबान लौटेगा. मेरा तालिबान से कोई लेना-देना नहीं है. तालिबान को अबतक यूएपीए के तहत आतंकी घोषित क्यों नहीं किया गया. तालिबान के लौटने से पाकिस्तान और चीन को मजबूत मिलेगी और मुझे लगता है कि भविष्य में यह भारत के लिए खतरा होगा.

इसके अलावा यूपी चुनाव को लेकर ओवैसी ने कहा कि हम सपा और बसपा के साथ गठबंधन के लिए तैयार हैं. यूपी में हम 100 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि अतीक अहमद यूपी में AIMIM के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे. मुख्तार अंसारी को लेकर हमने अभी फैसला नहीं किया है.

ओवैसी के बयान पर बीजेपी विधायक हरि भूषण ठाकुर ने कहा कि ओवैसी के पास अपना सांप्रदायिक एजेंडा है. वह दूसरे जिन्ना बनना चाहते हैं. उनके पास केवल दुनिया का तालिबानीकरण और इस्लामीकरण का एजेंडा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें