scorecardresearch
 

जंतर-मंतर पहुंचे किसान, Monsoon सत्र तक रोज 6 घंटे यही चलेगी ​किसानों की संसद

जंतर-मंतर पहुंचे किसान, Monsoon सत्र तक रोज 6 घंटे यही चलेगी ​किसानों की संसद

अब किसान आंदोलन का पता नया हो गया है - दिल्ली का जंतर-मंतर, जहां आए दिन धरना-प्रदर्शन होते रहते हैं. अब किसान संसद के चंद फासले से अपनी संसद चलाएंगे. पहले दिन दल-बल के साथ किसान सिंघु बॉर्डर से जंतर-मंतर के लिए निकले. 5 बसों में सवार किसानों को 11 बजे पहुंचना था, लेकिन निकलने में ही देरी होती चली गई. पुलिस ने पूरी तरह से जांच परख के बाद किसानों की बसों को रवाना किया. बस से मीडियाकर्मियों को निकाल दिया गया. हर किसान के गले में पहचान पत्र जरूरी था. राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव और हनन मोहल्ला एक साथ बैठ थे.

Now farmers will run their Parliament at Jantar Mantar every day. On the first day, the farmers left the Singhu border for Jantar Mantar with the force. The farmers in 5 buses were to reach at 11 AM, but there was a delay. After a thorough investigation, the police dispatched the farmers' buses. An identity card was necessary for every farmer. Watch this show.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें